व्यवसायी जितेंद्र गांधी हत्याकांड पर फूटा आक्रोश, फुलवारी आवास पर इकट्ठा है भारी भीड़

पटना (अजित यादव) : पटना के वेटनरी ग्राउंड के पास एयरपोर्ट थाना क्षेत्र में बीती रात खादिम्स शो रूम के मालिक जितेंद्र गांधी की हत्त्या के बाद लोगों में आक्रोश है. उनके फुलवारीशारीफ के पेठिया बाज़ार स्थित घर पर लोगों की भारी भीड़ जमा हो गई है. एक तरफ जहां परिवार में इस दर्दनाक घटना के बाद से मातम पसरा हुआ है वहीं दूसरी ओर शव के अंतिम संस्कार की तैयारी चल रही है. इलाके के व्यवसायियों में गुस्सा और गम दोनों ही देखने को मिल रहा है. उधर पुलिस के खिलाफ भी लोगों में आक्रोश है. अब तक कुछ भी साफ नहीं हो सका है कि आखिर उनकी हत्या के पीछे क्या कारण था.

बता दें कि पटना में मंगलवार की देर रात शो रूम बन्द कर घर लौट रहे बिजनेसमैन की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. मौत के घाट उतारे गए बिजनेसमैन का नाम जितेंद्र कुमार गांधी बताया गया. वो अपने बेटे के साथ बाइक से फुलवारी शरीफ स्थित घर लौट रहे थे. जगदेव पथ के रास्ते फुलवारी शरीफ जाने के लिए निकले थे. लेकिन संजय गांधी इंस्टीट्यूट के पास पहुंचते ही बाइक को ओवर टेक कर अपराधियों ने फायरिंग कर दी.

अपराधियों की एक गोली सीधे जितेंद्र कुमार गांधी को जा लगी और मौके पर ही उनकी मौत हो गई. वारदात के वक्त मौजूद बेटे को भी अपराधियों ने मारने की कोशिश की. लेकिन वो बाल-बाल बच गया. दरअसल, जीतेंद्र के बेटे के पास लाइसेंसी पिस्टल थी. अपनी लाइसेंसी पिस्टल से उसने जवाबी फायरिंग की. जिसके कारण अपराधी भाग खड़े हुए. बेली रोड के राजा बाजार में जितेंद्र ने फुटवेयर का शो रूम खोल रखा था.

वारदात की जानकारी मिलते ही सबसे पहले पटना पुलिस की डॉल्फिन मोबाइल पहुंची. यही टीम जितेंद्र को लेकर पास के एक प्राइवेट हॉस्पिटल में पहुंची. लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी. दूसरी तरफ एयरपोर्ट थाना की पुलिस टीम वारदात स्थल पर पहुंची. प्रभारी एसएसपी सह सिटी एसपी सेंट्रल अमरकेश दरपिनेनी ने भी मामले की जांच की.

वारदात स्थल से पुलिस को गोली का एक ही खोखा मिला है. जो बिजनेसमैन के बेटे के लाइसेंसी पिस्टल से चली हुई है. अपरधियों की चलाई गोली का कोई खोखा पुलिस को नहीं मिला. जितेंद पुणे में रहकर पढ़ाई करता था. इसी साल वो मई महीने में अपने घर आया था. फिलहाल पुलिस इसके बयान के आधार पर ही पूरे मामले की जांच कर रही है. किसी प्रकार की दुश्मनी की बात अब तक सामने नहीं आई है.

About Md. Saheb Ali 226 Articles
Md. Saheb Ali

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*