इस गर्मी बिहारी सत्तू से बुझाये अपनी प्यास, स्वाद और सेहत दोनों का ख्याल

sattu-ka-sharbat

लाइव सिटीज डेस्क : बात अगर गर्मी के मौसम की हो और प्यास बुझाने के साथ स्वाद और सेहत से भरपूर किसी पेय या शरबत की बात करें तो ऐसा हो ही नही सकता कि बिहार के सत्तू को कोई भूल जाये.  सत्तू एक प्रकार का देशज व्यंजन है, जो भूने हुए जौ और चने को पीस कर बनाया जाता है. बिहार में यह काफी लोकप्रिय है और कई रूपों में प्रयुक्त होता है. सामान्यतः यह चूर्ण के रूप में रहता है जिसे पानी में घोल कर या अन्य रूपों में खाया अथवा पिया जाता है.

गरमी के मौसम में जितना पानी पी सकते है उतना पीए. पानी को अनेक तरीक़ों से पीया जा सकता है, तो आज हम नमकीन सत्तू का शर्बत बनाते है. यह बिहार की विधि है.  इस मौसम में रोजाना 1 -2 गिलास सत्तू का नमकीन शर्बत बनाकर पीजिये, यह आपको गर्मी से राहत भी देगा और लू से भी बचायेगा.

sattu

आवश्यक सामग्री 

  • चने का सत्तू – आधा कप
  • पोदीना के पत्ते – 10
  • नीबू – आधा नीबू (2 छोटी चम्मच नीबू का रस)
  • हरी मिर्च – आधी
  • भुना जीरा – आधा छोटी चम्मच
  • काला नमक – आधा छोटी चम्मच
  • सादा नमक – एक चौथाई छोटी चम्मच या स्वादानुसार

विधि 

पोदीना के पत्ते धोइये, 2 पत्ते साबुत छोड़ कर, सारे पत्ते बारीक काट लीजिये. हरी मिर्च को बारीक काट लीजिये हरी मिर्च को कम तीखा खाते हैं तब अपने हिसाब से कम कर लीजिये.

सबसे पहले सत्तू में थोड़ा सा ठंडा पानी डालकर गुठलियां खतम होने तक घोल लीजिये, और अब 1 कप पानी मिला दीजिये, घोल में काला नमक, सादा नमक, हरी मिर्च, पोदीना की पत्तियां, नीबू का रस और भुना जीरा पाउडर डाल कर मिला दीजिये. सत्तू का नमकीन शर्बत तैयार है.

सत्तू के नमकीन शर्बत को गिलास में डालिये और पोदीना की साबुत पत्ती डालकर सजा दीजिये, शर्बत को और अधिक ठंडा करने के लिये, 3-4 बर्फ के क्यूब बारीक तोड़कर डाल कर मिलाये जा सकते हैं.
गर्मी के मौसम में रोजाना 1 -2 गिलास सत्तू का नमकीन शर्बत बनाकर पीजिये, ये आपको गर्मी से राहत देगा और लू से भी बचायेगा.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*