फेस्टिव मूड : होली मनाएं, पर कोई गुस्ताखी न करें…

पटना : इस बार पटना शहर में होली का रंग अलग ही होगा. इस बार हुरियारों पर शराब का नहीं, शराबबंदी का रंग चढ़ा होगा. जिला प्रशासन इस बार ब्रेथ एनालाइजर के साथ शहर के 12 प्रमुख इलाकों में टीमें तैनात करेगा. ये टीमें शराब पीकर कानून तोड़ने वाले हुरियारों को पकड़ेंगी.

डीएम संजय कुमार अग्रवाल ने हाल ही में वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक करने के बाद कहा कि त्योहार को शांतिपूर्वक बनाने के लिए कोई भी प्रयास बाकी नहीं रखा जाएगा. मजिस्ट्रेट और पुलिस महत्वपूर्ण स्थानों पर तैनात होकर शराब पीनेवालों को पकड़ेंगे. उत्पाद विभाग के अधिकारी भी ब्रेथएनालाइजर के साथ इन जगहों पर तैनात होंगे. अगर कोई व्यक्ति शराब पीता हुआ पकड़ा गया, तो उसके विरुद्ध गंभीर कार्यवाही की जायेगी. गौरतलब है कि 12 मार्च को होलिका दहन और 13 मार्च को होली है.

डीएम ने कहा कि पटना में इन दोनों दिन फेस्टिवल को देखते हुए 120 से अधिक मजिस्ट्रेट तैनात किये जाएंगे. सादी वर्दी में तैनात पुलिसकर्मी त्योहारी गतिविधियों पर नजर रखेंगे. खासकर बाइकर गैंग पर भी खास नजर रखी जायेगी. शहर में अक्सर शरारती गतिविधियों में शामिल रहनेवाले बाइकर गैंग पर भी पुलिस कर्मियों को कड़ी नजर रखने की चेतावनी दी गयी है. उन्होंने कहा कि होली हर्ष, उल्लास और मिल्लत का त्योहार है, ऐसे में लोगों को चाहिए कि इसकी पवित्रता बनाए रखे.

पिछले साल की ही तरह इस साल भी पटना को आठ सेक्टरों में पुलिस और मजिस्ट्रेट के बीच बांटा गया है. थानाध्यक्षों को छोटी से छोटी घटना होने पर भी अपने वरिष्ठ अधिकारियों को सूचित करने के निर्देश दिए गए हैं. अधिकतर पार्क, होटल, रेस्टोरेंट और सार्वजनिक भवनों में गश्त लगाने के लिए कहा गया है. इन स्थानों पर सादी वर्दी में महिला कांस्टेबल और पुलिस अधिकारी सादी वर्दी में महिलाओं से छेड़खानी करने वालों को पकड़ेंगे. पटना पुलिस शहर के संवेदनशील स्थानों की पहचान करके वहां पर अतिरिक्त फोर्स की तैनाती करेगी.

अग्निशमन दस्तों को खासतौर पर होलिक दहन के दिन अलर्ट पर रहने के लिए कहा गया है. अस्पतालों को आग से जलने के मामलों के लिए खासतौर पर तैयार रहने के लिए कहा गया है. सभी सरकारी अस्पतालों सहित पटना मेडिकल कॉलेज और अस्पताल, नालंदा मेडिकल कॉलेज और अस्पताल, और न्यू गार्डिनर रोड अस्पताल से खासतौर पर सतर्क् रहने के लिए कहा गया है.



उन्होंने कहा कि पुलिस के अलावा जिला प्रशासन की टीम भी शहर की गतिविधियों पर नजर रखने के लिए डयूटी पर तैनात रहेंगे. जिला प्रशासन के कंट्रोलरूम से भी लोग इमरजेंसी में संपर्क कर सकते हैं. इमरजेंसी की स्थिति में जिला प्रशासन के इन नंबरों 0612-2219810/2219545/2219097 पर आप कॉल कर सकते हैं. इसके अलावा इन नंबरों 0612-2201978/2201975 पर पुलिस कंट्रोल रूम से बात कर सकते हैं.

यह भी पढ़ें- BSSC घोटालाः सवालों से भागते IAS अनिल, अब एक्शन के मूड में SIT

भरोसे के कितने काबिल हैं मनु महाराज, आज रात 8 बजे

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*