नीतीश ने मुंबई में शिवसेना-मनसे को दी हिदायत, कहा – बिहार के लोग किसी पर बोझ नहीं

NITISH-MUMBAI

लाइव सिटीज डेस्क : बिहार के बाहर पार्टी के लिए जमीन तलाश रहे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार शनिवार को मुंबई में मैथिली समन्वय समिति द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में शामिल हुए. यहां उन्होंने शिवसेना और महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना को बिहार और उत्तर भारतीयों से बेहतर व्यवहार करने की ईशारों ईशारों में हिदायत दे डाली. उन्होंने कहा कि बिहार के लोग किसी पर बोझ नहीं बनते, बल्कि लोगों को रोजगार मुहैया कराते हैं.

दरअसल, नीतीश की पार्टी जेडीयू अब महाराष्ट्र की राजनीति में भी अपनी जमीन तलाशने की कोशिश कर रही है. माना जा रहा है कि नीतीश की नजर मुंबई में रहने वाले बिहार और उत्तर भारत के लोगों पर है. उनके इस बयान को उसी से जोड़ कर देखा जा रहा है. नीतीश ने यहां पार्टी के कार्यकर्ताओं को भी संबोधित किया.

बता दें कि नीतीश केरल, मुंबई और दिल्ली के चार दिवसीय दौरे पर हैं. इससे पहले शुक्रवार को उन्होंने कोच्ची में केंद्र व कई राज्य सरकारों पर हमला बोला. उन्होंने कहा कि शराबबंदी की बजाए शराब कारोबार को बढ़ावा देकर ये सरकारें, सु्प्रीम कोर्ट का आदेश भी नहीं मान रहीं. शराब का कारोबार बेधड़क चलता रहे, इसके लिए सरकारें एनएच और एसएच को डीनोटिफाई तक कर रही हैं, जबकि यहां के लोग शराबबंदी चाहते हैं.

मुख्यमंत्री ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने एनएच और एसएच के 500 मीटर के दायरे में शराब की दुकानें बंद करने का फैसला दिया. हद है कि सरकार ही शराब की दुकान को एनएच और एसएच के 500 मीटर के दायरे से बाहर शिफ्ट कराने में लगी हैं. उन्होंने कहा कि जनहित में पूरे देश में शराबबंदी का बिहार मॉडल अपनाया जाए यानी, पूर्ण शराबबंदी.

यह भी पढ़ें :

नीतीश सरकार में गांधी संग्रहालय का अधिक विकास हुआ- रजी अहमद

सुमो का अब नीतीश को लेटर, तेजप्रताप को बर्खास्त करने की मांग

मिट्टी घोटाले में लालू परिवार को क्लीन चिट ! अब राजद ने कहा- सुमो इस्तीफा दें

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*