अब लीजिये ‘CashLess’ सिलेंडर , स्वाइप मशीन लेकर घर आएगा वेंडर

पटना :  आपके घर अगली बार सिलेंडर आएगा तो वेंडर को कैश देने का झंझट खत्म हो जाएगा. जी हां. सिलेंडर की भुगतान की प्रणाली कैशलेस होने जा रही है. बिहार एलपीजी वितरक संघ की मानें तो योजना को मूर्त रूप देने का काम अपने अंतिम चरण में है. दो से तीन दिनों के अंदर नई व्यवस्था के तहत काम शुरु हो जाएगा. इसका मतलब ये हुआ कि वेंडर अब अापके घर स्वाइपिंग मशीन लेकर पहुंचेंगे. आप अपने डेबिट अथवा क्रेडिट कार्ड से पेमेंट का भुगतान कर सकते हैं. नोटबंदी के बाद से खुदरा और नए नोटों के लेकर हुई किल्लत के बीच एलपीजी वितरक संघ का ये कदम स्वागतयोग्य है.

swastic-final

Paytm और Mobikwik की भी रहेगी सुविधा

सिलेंडर के पेमेंट भुगतान के लिए स्वाइपिंग कार्ड के अलावा पेटीएम के जरिए बी बिल का भुगतान संभव हो जाएगा. आप अपने वेंडर के पेटीएम एकाउंट में अपने पेटीएम वॉलेट से पैसे ट्रांसफर कर सकते हैं. भारत पेट्रेलियम कॉरपोरेशन के क्षेत्रीय निदेशक दिलीप खोरवाल की मानें तो इसके लिए वेंडरों को पहले ट्रेन्ड किया जाएगा. इसमें अक हफ्ते का वक्त लग सकता है. इसके बाद से ग्राहक वेंडरों को पेटीएम के जरिए भी पैसा ट्रांसपर कर पाएंगे.

दिलीप खोरेवाल का कहना है कि पेटीएम के अलावा दूसरे ई-वॉलेट मसलन मोबिक्विक और अन्य के जरिए भी बिल का भुगतान किया जा सकेगा. इस दिशा में भी भारत पेट्रोलियम प्रयास कर रहा है. सिलेंडर के बिल के भुगतान के लिए सभी विकल्पों पर विचार किया जा रहा है. ग्राहकों के सामने एक से अधिक विकल्प होंगे.

एजेंसी और गोदाम का काम भी होगा कैशलेस

बिहार एलपीजी वितरक संघ के महासचिव डॉ रामनरेश सिंह के अनुसार केवल ग्राहकों ही नहीं बल्कि संघ की योजना है कि एंजेंजी और गोदामों के सारे काम कैशलेस हों. इसके लिए सभी गोदामों और एजेंसियों में भी स्वाइपिंग मशीन लगाए जाएंगे.

यह भी पढ़ें :

रांची-पटना जनशताब्दी से 35 लाख रुपयों संग 14 बोतल शराब बरामद

भारत में ‘Cashless’ इकॉनमी की बात बस एक कल्पना : नीतीश कुमार

इस तरह कैश-लेस होकर काम कर सकते हैं आप 

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*