खबरदार : पटना में कैंसर और किडनी की दवाएं भी नकली, 30 लाख की दवा जब्त

पटना : ये खबर आपके लिए चेतावनी है यदि आप कैंसर के रोगी हैं या किडनी के रोग से ग्रस्त हैं. राजधानी पटना में कैंसर और किडनी की बीमारी की दवाएं भी नकली बिक रही हैं. पटना पुलिस की STF टीम ने एसएसपी मनु महाराज के निर्देश पर अगमकुआं थाना स्थित भूतनाथ रोड के MIG ब्लॉक-5 में छापेमारी कर करीब 30 लाख रुपए की नकली दवाएं जब्त की है. इनमें कई दवाएं एल्केम, एबोर्ट और अन्य प्रतिष्ठित कंपनियों की भी शामिल हैं.

कंपनी के प्रतिनिधि ने ही दी थी पुलिस को गुप्त सूचना

पटना पुलिस ने नकली दवाओं के इस खेल का पर्दाफाश कंपनी के ही एक प्रतिनिधि की गुप्त सूचना के आधार पर किया है. एबोर्ट कंपनी के पदाधिकारी मुस्तफा हुसैन ने एसएसपी मनु महाराज को ये गुप्त सूचना दी थी कि राजधानी में विभिन्न कंपनियों की दवाएं नकली रैपर लगाकर बेची जा रही हैं. पुलिस ने मुस्तफा के बताए ठिकाने पर छापेमारी की तो गोविंद मित्रा रोड से दवाओं का हॉकर सुनील पहले गिरफ्तार हुआ. फिर उसी की निशानदेही पर पुलिस ने शुभम अपार्टमेंट में छापा मार भारी मात्री में नकली दवाएं जब्त कर ली. नकली दवाओं के साथ तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है जिनके नाम सुनील कुमार, बब्लू कुमार और मंटु कुमार हैं.

इन नकली दवाओं की हो रही थी सप्लाई

UDILIV  (Abbott), Becosules syrup (pfizer), Calcium Sandoz (Novartis), Stemetial MD (Abbott), Betadine Solution (WinMedicare), Galvus 50mg (Novertis), Zolfursh 10mg (Abbott), Pan 40 (Alkem), Clavam (Alkem), Duphaston (Abbott), Taxim-O (Alkem), Zentel (glaxo), Pantocid (Sunpharma), Jalra (USA), Chymoral Forte (Torrent), Pantop DSR/402 (Aristo)

पुलिस कर रही गिरोह की जांच

पुलिस के मुताबिक नकली दवाओं के इस गिरोह में और भी लोग शामिल हैं. गिरफ्तार लोगों से पूछताछ चल रही है. कई और नाम सामने आ सकते हैं. सूत्रों के अनुसार इस रैकेट में कई ड्रग इंस्पेक्टर की मिलीभगत की बात भी सामने आ रही है. एसएसपी मनु महाराज खुद मामले की मॉनिटरिंग कर रहे हैं. गिरोह से जुड़े सभी लोगों का पता लगाया जा रहा है.

यह भी पढ़ें :

सन्नाटे में मजिस्ट्रेट कॉलोनी का कृष्णा कुंज, बेटी की डोली से पहले निकली पिता की अर्थी

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*