पेड़ गिराकर राहगीरों को लूट लेते थे, अब बेगूसराय के सरगना को खोज रही है पटना पुलिस

लाइव सिटीज, पटना/फतुहा (धर्मवीर प्रसाद) : पटना जिला के खुसरुपुर एवं दनियाँवा थाना क्षेत्र के राहगीरों एवं वाहन चालकों को शिकार बनाने वाले गिरोह का पुलिस ने पर्दाफाश किया है. गिरोह का सरगना बेगूसराय के मटिहानी निवासी मिंटू महतो का नाम सामने आया है. मिंटू की गिरफ्तारी के लिए पुलिस सक्रिय है. बताया जाता है कि इस गिरोह के लोग विभिन्न सड़कों पर रात में पेड़ काटकर गिरा देते थे और सड़क से गुजरने वाले वाहनों एवं राहगीरों के साथ लुटपाट की घटना को अंजाम दिया करते थे.

इस तरह इलाके में सड़को पर लूटपाट की खबर से दो थाना की पुलिस परेशान थी. आये दिन हो रही लूटपाट के कारण लोग तेलमर-नगरनौसा, खुसरुपुर-नगरनौसा सड़क पर रात में चलने से लोग डर रहे थे. हालिया घटना सालिमपुर थाना के तेलमर सड़क की है. अपराधियों ने सड़क पर पेड़ गिराकर मार्ग अवरुद्ध कर दिया. संयोग से उसी दौरान सालिमपुर की गश्ती गाड़ी पहुंची. अपराधियों ने शिकार समझ गाड़ी पर धावा बोल तो दिया, पर पुलिस को देख उल्टे पांव भाग खड़े हुए.

पुलिस की गिरफ्त में लुटेरे

पुलिस ने पकड़ने की विफल कोशिश की, पर सभी अंधेरे का लाभ पा गए. पुलिस के अनुसंधान में सूचना मिली कि खुसरुपुर थाना क्षेत्र के लोग कांड में शामिल है. सालिमपुर के थानाध्यक्ष अजय कुमार और खुसरुपुर थानाध्यक्ष मृत्युंजय कुमार ने मिलकर जांच शुरू की. इसी दौरान पुलिस को दनियाँवा से लुटे गए मोबाइल का लोकेशन भी खुसरुपुर बिंदतोली का मिलने लगा. खोजबीन के क्रम में पुलिस ने हरदासबीघा बिंदटोली (फुलवरिया) के सोमर महतो तथा भोला महतो एवं मिट्ठु महतो को सारण के डोरीगंज से उठाया. सख्ती से पूछताछ में इनलोगों ने अपराध में अपनी संलिप्तता स्वीकार कर ली.

इन बदमाशों की निशानदेही पर पुलिस ने चार मोबाइल फोन, दो देशी पिस्टल, दो जिंदा कारतूस, लोहे की आरी बरामद की है. आरोपितों ने बताया कि मटिहानी का मिंटू महतो की रिश्तेदारी फुलवरिया बिंदटोली में है और वह यही पर रह रहा है. उसने ही गिरोह बनाया और घटनाओं को अंजाम दिया. इस गिरोह के उदभेदन हो जाने से सालिमपुर, खुसरुपुर एवं दनियाँवा पुलिस ने राहत की सांस ली है. गिरफ्तार सभी आरोपितों को जेल भेज दिया गया है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*