वैश्य समाज की राजनीतिक जमीन मजबूत करने की कवायद

पटना(नियाज आलम) : साहू समाज के बाद अब वैश्य समाज भी अपनी राजनीतिक स्थिति मजबूत करने में जुट गया है. वैश्य समाज ने इसका बिगुल भी फूंक दिया है. इसी क्रम में शनिवार को वीर चन्द्र पटेल पथ स्थित रवीन्द्र भवन में वैश्य जनप्रतिनिधि सम्मान समारोह सह जागृति सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा. समारोह में वैश्य समाज के अग्रणी नेताओं, प्रबुद्ध लोगों व शिक्षा समेत अन्य क्षेत्रों में समाज का मान बढ़ाने वाले लोगों को सम्मानित किया जाएगा.

इनमें बिहार के वैश्य समाज के निर्वाचित पंचायत प्रतिनिधिगण, एवं प्रबुद्ध लोगों के अलावा पूर्व एवं वर्तमान सांसद, विधायक, विधान पार्षद व विधान सभा चुनाव में दूसरे स्थान पर रहे वैश्य प्रत्याशियों को सम्मानित किया जाएगा. इसके अलावा समाज की विभिन्न उपजातियों के व्यवसायी, डॉक्टर, इंजीनियर, वकील, बिल्डर, पदाधिकारी, शिक्षाविद्, संवेदक, महिलाएं व स्वयंसेवी संस्थाओं के 5-5 लोगों को भी सम्मानित किया जाएगा.

अखिल भारतीय जायसवाल युवा महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष पवन जायसवाल ने एक प्रेसवार्ता के माध्यम से इसकी जानकारी दी. पूर्व विधायक ने कहा कि एक गैर राजनीतिक सोच के तहत यह समारोह वैश्य समाज को एकजुट करने का सामूहिक प्रयास है. उन्होंने कहा कि इसके माध्यम से कोशिश की जाएगी कि 56 उपजातियों में विभाजित वैश्य समाज अपनी एकजुटता को कायम करे.

उन्होंने कहा कि वैश्य समाज के अग्रणी नेताओं को मजबूती प्रदान करे ताकि आबादी के अनुपात में वैश्य समाज को राजनीतिक भागीदारी मिल सके. वैश्य समाज को उपेक्षा की दृष्टि से देखने का कोई साहस नहीं कर सके. प्रेसवार्ता में शिव गुप्ता, राजकुमार जायसवाल, अमर जायसवाल, अरुण, सुनील, ज्वाला चौधरी, राजा चौधरी, वीणा मानवी आदि मुख्य रूप से उपस्थित रहे.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*