फुलवारीशरीफ में झोपड़पट्टी में लगी भीषण आग, 29 झोपड़ियां खाक़

फुलवारी शरीफ(अजीत) : राजधानी पटना के फुलवारी शरीफ से होकर गुजर रही नई दिल्ली पटना रेलवे लाइन किनारे झोपड़पट्टी में लगी भीषण आग में 29 से अधिक झोपड़ियां जलकर ख़ाक हो गयीं. अगलगी में एक महिला और एक पुरुष मिथुन चौधरी समेत दो लोग झूलस गये. जबकि कई जानवर भी आग की चपेट में आ गए.

इस भीषण अगलगी में पचास लाख से अधिक का नुक्सान होने की बातें सामने आ रही है. आग लगते ही मची भगदड़ और लोगों के चीत्कार से पूरे इलाके में कोहराम मच गया. रह-रह कर फटे पांच सिलेंडरों के धमाकों से हालत बेकाबू होता गया और देखते ही देखते दो दर्जन से अधिक परिवारों के अरमान आग में जलकर स्वाहा हो गये. रेलवे लाइन किनारे झाड़ियों के बीच जहां झोपड़पट्टी में आग लगी वहां दमकल गाड़ियों को काफी मशक्कत के बाद किसी तरह पुलिस ने पहुंचाया. तब जाकर आग पर पूरी तरह काबू पाया जा सका.

इस दौरान प्रशासन के प्रति लोगों में भारी गुस्से का आलम दिखा. क्योंकि सुचना देने के काफी देर बाद दमकल की गाड़ियां पहुंची तबतक सबकुछ स्वाहा हो चूका था. पुलिस इंस्पेक्टर धर्मेन्द्र कुमार ने किसी तरह झाड़ियों के बीच से पुलिस के जवानों की मदद से दमकल के आने का रास्ता बनाया तब जाकर दमकल की गाड़ियां घटनास्थल पर पहुंच सकीं.  क्विक मोबाइल के जवानों के साथ ही सभी पुलिस के जवानों को दौड़ भागकर आग बुझाने का अथक प्रयास करते रहे.

चापाकल से पानी चलाकर आग बुझाने का भरसक प्रयास भी लोग करते रहे लेकिन कुछ भी बचा पाने में असफल रहे. झोपड़पट्टी में करीब चार से पांच चापाकल थे जो आग की भेंट चढ़ गए. वहीं इस घटना में घायल लोगों को पुलिस इंस्पेक्टर धर्मेन्द्र कुमार ने तत्काल एम्बुलेंस से इलाज के लिए पीएमसीएच भेजवाया जबकि एक महिला समेत अन्य घायलों का इलाज स्थानीय स्तर पर कराया जा रहा है.  दानापुर सीओ महेंद्र प्रसाद गुप्ता ने बताया की तत्काल 98 सौ रूपये नगद और पौलिथिन सीट का सरकारी सहायता दिया जा रहा है.

अगलगी में जिनलोगों की झोपड़ियां जली उनमें टुनटुन महतो, योगेन्द्र महतो, दिनेश ठाकुर, गुड्डू, सूरज चौधरी, मुकेश कुमार, तेजू चौधरी, मिथुन चौधरी, अशोक चौधरी, सुभाष सहनी, सनोज चौधरी, अरविन्द राय, अजय दास, मुंद्रिका ठाकुर, रुपेश कुमार, सुशिल पंडित, बलदेव मोची, बिहारी ठाकुर सुरेश चौधरी समेत 29  से अधिक लोग शामिल हैं .

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*