यात्रीगण ध्यान दें : सफर में रेल पुलिस की यह बात नहीं मानी तो बुरे फंसेंगे

पटना : अगर आप ट्रेन में ट्रैवल कर रहे हैं. स्लीपर या एसी कोच में आपने रिजर्वेशन करा रखा है तो रेल पुलिस कुछ सुझावों पर जरूर ध्यान दें. ट्रैवल के दौरान आप अपने सीट के नीचे किसी भी अनजान शख्स को किसी प्रकार का कोई सामान रखने नहीं दें. अगर आपने अनजान शख्स को अपनी सीट के नीचे सामान रखने से मना नहीं किया तो आप बुरे फंस सकते हैं. क्योंकि हो सकता है कि आपकी सीट के नीचे रखा जाने वाले सामान में गांजा और शराब जैसे नशीले समाना हो सकते हैं.

दअरसल, ये सलाह पटना के रेल एसपी जितेन्द्र मिश्रा की ओर से दी गई है. रेल एसपी की ओर से सलाह दिए जाने के पिछे की एक बड़ी वजह भी है. नशे के सौदागरों ने ​बिहार आने वाली और यहां से होकर गुजरने वाली ट्रेनों को अपना सॉफ्ट टारगेट बना लिया है. किसी भी पैसेंजर की सीट के नीचे चुपके गांजा के पैकेट या शराब से भरी बैग रख देते हैं और फिर साइड हो जाते हैं. ताकि वो पकड़े न जाएं. ऐसे मामले कई दफा सामने आ चुके हैं.

स्लीपर कोच से बरामद किए गए 68 केजी गांजा
रेल एसपी ने पैसेंजर्स से एतिहात बरतने की अपील ऐसे ही नहीं की है. असल में पटना आ रही एर्नाकुलम एक्सप्रेस के स्लीपर कोच से गांजा की एक बड़ी खेप को पटना रेल पुलिस की टीम ने बरामद किया है. ट्रेन के कोच नंबर एस—4 में एक सीट के नीचे गांजा के कई पैकेट छीपाकर रखे गए थे.

68 किलो के गांजा की इस खेप को बाहर से लाया जा रहा था और इसकी सप्लाई वैशाली के राघोपुर में किया जाना था. हालांकि इस मामले में रेल पुलिस को एक सफलता भी मिली है. कैरियर का काम कर रहे राघोपुर के अर​विन्द कुमार को अरेस्ट भी किया है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*