नगर निगम तेरे ‘इंजेक्शन’ वाले वादे का क्या हुआ ?

पटना : प्रकाश पर्व को लेकर पटना नगर निगम जिस अंदाज में मुस्तैद था, अब वो मुस्तैदी नहीं दिख रही है.पटना को स्वच्छ और सुंदर बनाने को लेकर जो कस्मे-वादे खाये गये थे, अब सबकी हवा निकल रही है.

नगर निगम ने यह दावा किया था कि कचड़ा फैलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. नगर निगम ने गंदगी फैलाने वालों के खिलाफ जुर्माना लगाने की बात कही थी. लेकिन पटना का आलम देखकर तो यही लगता है कि नगर निगम वादे खोखले निकले.प्रकाश पर्व के खत्म होते ही पटना के खाली प्लॉटों पर फिर से कूड़े का अंबार दिखने लगा है. आप ही जरा इस तस्वीरों को देखिए.आपको किस लिहाज से लगता है कि पटना नगर निगम अपने वादे को लेकर कितना सजग है.

ये तस्वीरें बयां करती हैं कि आशियाना के नीलकंठ कॉलोनी में नगर निगम के इंजेक्शन वाले वादे का क्या हो रहा है. नीलकंठ कॉलोनी के लोग इस कूड़े के ढेर से आजीज आ चुके हैं. ना तो यहां नगर निगम का कोई कर्मी आता है और ना ही कूड़ा फेंकना की कोई समुचित व्यवस्था की गई है. गौरतलब है कि नगर निगम की ओर से यह कहा गया था कि जुर्माने की व्यवस्था के अलावा नगर निगम खुद भी अब बेहतर स्वच्छता के लिए सड़कों की दिन में दो बार सफाई करवाया करेगा और इस काम  3200 कर्मचारियों के जिम्मे होगा. लेकिन इन तस्वीरों को देखने के बाद तो यही लगता है कि नगर निगम हर बार की तरह इस बार भी अपने वादे को भूल गया.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*