नोटबंदी के बाद 5400 करोड़ की ब्लैक मनी का हुआ खुलासा, सरकार ने SC को बताया

black money

लाइव सिटीज डेस्क : केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को हलफनामे में बताया है कि जांच एजेंसियों ने दस जनवरी तक 5400 करोड़ के काले धन का पता लगाया है. सरकार ने नोटबंदी के एेलान के बाद पुरानी करेंसी में हुई गोल्ड की खरीदारी जैसे कई गैरकानूनी गतिविधियों का भी जिक्र किया है. एजेंसियों द्वारा 9 नवंबर से 30 दिसंबर 2016 तक मारे गए छापों और जब्त की गई राशि का विवरण दिया. केंद्र सरकार ने अदालत को बताया कि नोटबंदी लागू होने के बाद लोगों ने अपने कालेधन को कई गैरकानूनी तरीकों से ठिकाने लगाने की कोशिश की. लोगों ने अपने पुराने नोटों के बदले बड़ी तादाद में सोना भी खरीदा था.

जांच एजेंसियों की ओर से छापेमारी और अवैध धन की बरामदगी का ब्योरा देते हुए बताया कि 9 नवंबर से 30 दिसंबर के बीच नोटबंदी के बाद आयकर विभाग के चलाए ‘ऑपरेशन क्लीन’ के जरिए इस अवधि में बैंकों में जमा कराई गई नकद राशि के आंकड़ों का डाटा एनालिसिस व ई-वैरीफिकेशन कराया गया. वित्त मंत्रलय ने अपने हलफनामे में कहा है कि 9 नवंबर 2016 से 10 जनवरी 2017 के बीच आयकर विभाग ने विभिन्न लोगों के परिसरों पर 1100 छापे मारे या सर्वे किए.

black money

छापों और अन्य कड़े उपायों के कारण आयकर विभाग और अन्य कानून लागू करने वाली एजेंसियों ने 610 करोड़ से अधिक की नकद राशि और कीमती सामान जब्त किया. शपथपत्र में बताया गया कि उपरोक्त कार्रवाई से 5400 करोड़ रुपए से अधिक की अघोषित आय का पता लगा.

यह भी पढ़ें- रिज़र्व बैंक : सभी 10 के सिक्के हैं वैलिड, नहीं लेने वाले’देशद्रोही’

मुकेश अंबानी का नया रिकॉर्ड, सबसे बड़ी कंपनी बनने के कगार पर RIL

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*