ट्रक ने स्कूटी सवार 25 वर्षीय युवक को कुचला, मौत के बाद हंगामा

फुलवारी शरीफ: परसा बाजार थाना क्षेत्र के न्यू एतवारपुर में आरा मशीन के पास परसा बाजार की तरफ से आ रहे स्कूटी सवार 25 वर्षीय युवक को गया के तरफ से आ रहे ट्रक ने बुरी तरह से कुचल दिया. जिससे युवक का शव बुरी तरह क्षत—विक्षत हो गया. घटनास्थल पर ही युवक की दर्दनाक मौत हो गयी. ट्रक घटना स्थल पर छोड़कर चालक फरार हो गया. मृतक का पहचान कुरथौल निवासी विश्वनाथ राम के बेटे पवन के रूप में हुई. पवन के मौत की खबर मिलते ही परिजनों में कोहराम मच गया. स्थानीय युवक की मौत के बाद परिजन मौके पर पहुंचे और दहाड़ मारकर चीत्कार करने लगे. स्थानीय लोगों ने एक घंटे तक सड़क जामकर हो—हंगामा किया. इस दौरान स्थानीय लोगों ने ट्रक के शीशे फोड़ डाले और बांस बल्ले लगाकर परसा-पुनपुन मार्ग को जामकर हो हंगामा करने लगे.
सडक जाम से इस मार्ग पर अवागमन पूरी तरह बाधित हो गया और सैंकड़ो वाहन फंस गये. सड़क जाम पर मुआवजे की मांग कर रहे प्रदर्शंनकरियो का कहना था कि इस मार्ग की वर्षों से चौडीकरण करने की मांग हो रही है लेकिन सरकार इस सडक को चौड़ा नहीं कर रही है जबकि इस सड़क से पटना से पुनपुन, मसौढ़ी, जहानाबाद और गया तक के सैंकड़ों—हजारों की संख्या में वाहन गुजरते हैं. सड़क पर वाहनों का अत्यधिक प्रेशर रहता है. इस बीच स्थानीय ग्रामीणों को आने जाने में भारी परेशानियों का सामना करना पड़ता है. अबतक इस मार्ग पर सड़क दुर्घटना में सैकड़ों लोगोें की जानें गयी हैं लेकिन न सरकार सड़क चौड़ा कर रही है और न ही इस मार्ग पर वाहनों की बेलगाम रफ़्तार पर ही कोई लगाम लगाया जा रहा है. करीब एक घंटे तक सड़क जाम रहने के बाद परसा बाजार थाने की पुलिस मौके पर पहुंची और लोगों को समझा—बुझाकर सड़क जाम समाप्त करने के लिए राजी किया. प्रशासन ने मृतक के परिजनों को मुआवजा दिलाकर सड़क जाम समाप्त कराया और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा.
    
हो गयी थी मंगनी, इसी साल होनी थी शादी 
परसा बाजार के न्यू एतवारपुर में ट्रक से कुचलकर मारे गये युवक पवन का परिवार अत्यंत ही गरीबी और बदकिस्मती की मार झेल रहा था. मृतक पवन कुमार के पिता मजदूरी का काम करते हैं. पुरे परिवार को पवन से एक उम्मीद बंधी थी जो उसके सडक दुर्घटना में मौत के बाद टूट गयी. सिपारा में पवन की शादी तय हो गयी थी. शादी की तैयारियों के बीच उसकी मंगनी भी हो गयी थी. तीन भाइयों में पवन सबसे छोटा था. उसके मंझले भाई मदन की मौत कुआं में डूबकर पहले ही हो चुकी थी. अब पवन की मौत से परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है. पवन की मौत के बाद परिजनों में चीत्कार मचा हुआ है. अब एकमात्र बचे बड़े भाई गोपाल से ही परिजनों की आस बची है. फुलवारी शरीफ प्रखंड राजद अध्यक्ष ध्रुव यादव ने घटना को बेहद दुखद बताया.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*