पटना में बोले उर्मिलेश : ‘भारतीय मीडिया में विविधता की कमी’

लाइव सिटीज डेस्क/पटना : भारतीय मीडिया में विविधता और ज्ञान का अभाव है. आज के समय में मीडिया सिर्फ चुनी हुई खबरें ही दिखा रही है. ये बातें प्रसिद्ध पत्रकार डॉ उर्मिलेश उर्मिल ने गुरुवार को एक व्याख्यान के दौरान कहीं. कार्यक्रम का आयोजन पटना कॉलेज के बीएमसी विभाग ने गुरुवार को किया था. आज के दौर में मीडिया विषयक कार्यक्रम की शुरुआत बीएमसी विभाग के कॉर्डिनेटर प्रो तरुण कुमार ने डॉ उर्मिलेश उर्मिल को गुलदस्ता भेंट कर की. कार्यक्रम में डॉ उर्मिलेश ने कहा कि भारत विविधताओं का देश है, किंतु भारतीय मीडिया में विविधता का अभाव है.

उन्होंने कहा कि भारत में प्रेस का उदय आजादी की लड़ाई के साथ शुरू हुआ. उस समय के बुद्धिजीवी वर्ग ही अंग्रेजों के खिलाफ लिखते थे और उन्हें ही पत्रकार कहा जाता था. उस समय के सभी बड़े नेता पत्रकार भी थे. उन्होंने कहा कि अब सिर्फ बनावटी खबरें परोसी जा रही हैं.

भारतीय मीडिया के सर्वांगीण विकास नहीं हो पाने पर भी उन्होंने विस्तृत चर्चा की. इसके अलावा उन्होंने समाचार व विज्ञापन के मतलब भी समझाए. साथ ही उन्होंने न्यूज चैनलों को अखबारों से तुलना भी की. उन्होंने कहा कि दक्षिण के राज्यों में तो कई न्यूज चैनलों पर राजनीतिक पार्टियों का दबदबा है. यह भी मीडिया के पिछड़ने का एक बड़ा कारण है.

अंत में डाॅ उर्मिलेश ने छात्रों के प्रश्नों का का भी करीने से जवाब दिया. व्याख्यान के दौरान हिंदी विभाग की शिक्षिका डॉ विभा बीएमसी विभाग के शिक्षक गौतम कुमार, प्रमोद कुमार, सुमन कुमार, अमित कुमार और तीनों वर्ष के स्टूडेंट्स मौजूद थे.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*