पकड़ी गई कफ सिरप की बड़ी खेप, SSP बोले- रैकेट का जल्द होगा खुलासा

पटना(नियाज आलम) : बिहार में शराबबंदी के बाद से नशाखोरी के अलग-अलग तरीके ईजाद हो गए हैं. इसी में से एक है कफ सिरप का इस्तेमाल. अब शराब नहीं मिल रही तो कफ सिरफ खूब धड़ल्ले से बिक रही है. बिहार में कई राज्यों से इसकी तस्करी भी जारी है. इधर पटना एसएसपी मनु महाराज ने भी नशाखोरी के खिलाफ कमर कर ली है. गुरुवार को राजधानी पटना के करबिगहिया इलाके से कफ सिरप का जखीरा पकड़ा गया है. अंदाजन 550 बोतलें बरामद की गई हैं. पुलिस की स्पेशल टीम ने ऑपरेशन विश्वास के तहत छापेमारी कर ये खेप पकड़ी.

बताया जा रहा है कि इस बड़ी खेप को यूपी से बिहार में लाकर सप्लाई किया जाना था. उत्तर प्रदेश के बनारस से इन कफ सिरप की बोतलों को अररिया ले जाने का प्लान था. बिहार में इंट्री के लिए तस्करों ने रेल मार्ग का सहारा लिया. लेकिन पुलिस की दबिश में पकड़े गए.

पकड़ा गया आरोपी अररिया जिले का रहने वाला असलम बताया जा रहा है. बनारस में रोहित फार्मा से इस कफ सिरप की खेप अररिया में किसी राकेश नाम के व्यक्ति को भेजी जा रही थी. जिसमें असलम मिडिल मैन की भूमिका में था.

पटना पुलिस चीफ मनु महाराज ने मीडिया से बातचीत में बताया कि शराबंदी को लेकर रेलवे स्टेशनों, बस अड्डों आदि पर लगातार निगरानी और छापेमारी चल रही है. ऑपरेशन विश्वास के तहत पिछले दिनों काफी संख्या में लोग पकड़े भी गए. इसी क्रम में अररिया के रहने वाले मोहम्मद असलम को भारी मात्रा में कफ सिरप की बोतलों के साथ पकड़ा गया. उधर पुलिस इंटेरोगेशन में असलम ने बताया कि इसका इस्तेमाल नशे के लिए किया जाता है. एक कफ सिरप की कीमत 500 सौं रुपये तक मिल जाती है.

 

एसएसपी ने बताया कि कफ सिरप बरामदगी के बाद ड्रग इंस्पेक्टर को बुला कर उन्हें दिखाया गया. जिसके बाद उन्होंने बताया कि ये सिरप बिना डॉक्टरी सलाह के नहीं बेची जा सकती. इतनी बड़ी मात्रा में इसकी अनुमति नहीं है. मनु महाराज ने कहा की जब से शराबबंदी हुई है लोग इसके विकल्पों की तलाश में हैं. इसके पीछे निश्चित रूप से कोई रैकेट काम कर रहा है. जिसकी तलाश में पुलिस जुट गई है. पटना को नशा मुक्त बनाकर रहेंगे.

SSP ऑफिस में घंटों चला हाईवोल्टेज ड्रामा, शराब तस्करी में पकड़ी गई महिलाओं का हंगामा

RJD नेता हत्याकांडः फतुहा फोरलेन पर हंगामा, उग्र भीड़ ने डीएसपी को खदेड़ा

करोड़ों की संपत्ति का वारिस था शमीम, परिजनों पर ही हत्या का शक

शराब से भी बड़ी मुसीबत बनकर उभरी है कफ सिरप की तस्करी…!

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*