दहेज़ में दो लाख की डिमांड पूरी नहीं हुई तो विवाहिता को मार डाला 

dahej-patna
फुलवारी शरीफ/पटना (अजित): राजधानी में फिर एक विवाहिता की हत्या दहेज़ लोभी ससुराल वालों ने कर दी. मृतका के मायके वालों ने पति, ससुर-सास समेत अन्य ससुराल वालों के खिलाफ हत्या का नामजद मामला दर्ज कराया है. मृतका की शादी पिछले साल ही हुयी थी. जिस लाडली बिटिया को डोली में विदा किये थे महज 14 महीने में ही उसकी लाश देख परिजनों में कोहराम मच गया. मामला दीदार गंज थाना क्षेत्र के कोठियां गांव की है.
अग्नि के सात फेरों के साथ सात जन्मों तक साथ निभाने की कसमें खाने वाला पति ही हैवान बन गया और महज 2 लाख की डिमांड पूरी नही होता देख लाठी डंडों से पत्नी को इतना पीटा की वह कोमा में चली गयी तो, अस्पताल में मरणासन्न हालत में छोड़ ससुराल वाले फरार हो गए. मायके वालों को सूचना मिली तो आनन-फानन बाईपास के अर्थ हॉस्पिटल से चिंताजनक हालत में रीना देवी को पीएमसीएच में ले गए जहाँ सोमवार की आधी रात उसकी मौत ही गयी. रीना की मौत की खबर सुनकर परिजनों और गांव वाले भारी संख्या में पीएमसीएच पहुँच गए. परिजन शव देख दहाड़ मार चीत्कार करने लगे जिससे पूरा इलाका दहल उठा. इधर रीना की मौत की खबर मिलते ही पति समेत ससुराल वाले घर में ताला बन्द कर फरार हो गये.
दीदारगंज के मोहम्मदपुर गांव निवासी राम आशीष राय की तीन बेटियों में मंझली बेटी रीना की शादी 22 मार्च 2016 को दीदारगंज के ही कोठियां गाँव निवासी अनिश कुमार के साथ हुयी थी. रीना के पिता राम आशीष राय ने बताया कि शादी के 3 महीने बाद ही दामाद 2 लाख रूपये दहेज़ की डिमांड करने लगा. उनकी बेटी कहती थी की उसका पति कोई रोजगार करने की बात कहकर 2 लाख मंगवाने का दवाब देता है. दो लाख की डिमांड नही पूरी होने पर रीना को ससुराल में पति समेत अन्य ससुराल वालों ने मारपीट करते हुए प्रताड़ित करना शुरू कर दिया. इतना ही नही मारपीट कर ससुराल से रीना देवी को भगा दिया तो वह मायके में आकर रहने लगी.
इसके बाद समझा बुझाकर मायके वालों ने रीना को वापस ससुराल भेज दिया. जहाँ उसके साथ प्रताड़ना का दौर नही थमा और रीना फिर वापस मायके चली आई. परिवार के लोगों का कहना है कि इधर 15 दिन पूर्व जब रीना अपने ससुराल गयी तो उसपर ससुराल वालो ने कहर ढाना शुरू कर दिया. ससुराल में रीना की लाठी डंडों से जमकर पिटाई की गयी जिससे उसकी हालत बिगड़ती चली गयी. सोमवार को दस बजे सुबह रीना को गंभीर हालत में बाईपास के अर्थ हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया जहाँ वह कोमा में चली गयी. इसके बाद ससुराल वाले रीना देवी को अस्पताल में ही छोड़कर फरार हो गए.
सोमवार को ही दोपहर दो बजे इसकी जानकारी मिलते ही रीना के मायके वाले अर्थ हॉस्पिटल पहुंचे जहाँ अस्पताल में चिकित्सकों ने बताया की सर में गंभीर चोट लगने से रीना देवी कोमा में चली गयी और उसे इलाज के लिए अब पीएमसीएच ले जाएँ. परिजन आनन फानन रीना को पीएमसीएच ले गए, जहाँ आधी रात उसने दम तोड़ दिया. मृतका के मायके वालों का कहना है कि पुलिस को सूचना देने बावजूद अबतक ससुराल वालों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी नहीं शुरू की गयी है. परिजनो को आशंका है कि पुलिस ससुराल वालों से मिली हुयी है और उन लोगों को फरार होने का मौका दे रही है.
इस सम्बंध में दीदारगंज थानेदार ने बताया की पुलिस ऑफिसर को मामले की जाँच के लिए भेज गया है. परिजनों का फर्द ब्यान के आधार पर आगे की कार्रवाई की जायेगी.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*