वाहनों के दबाव के कारण गांधी सेतु पर महाजाम, 4 किलोमीटर तक लंबा जाम 

gandhi-setu

पटना (जुलकर नैन) : गांधी सेतु पर सोमवार को वन वे लागू कर दिया गया है. साथ ही पीपा पुल को 24 घंटे के लिए अभी फिलहाल चालू कर दिया गया है. हलांकि वाहन के दबाब के कारण आज तकरीबन 4 किलोमीटर तक महाजाम लगा रहा जिसके कारण कई दूल्हे की गाड़ियां महाजाम में फांसी रही तो कई बाइक से निकलने के लिए सेतु फुटपाथ पर बाइक चला के जाते हुए नजर आए. मंगलबार की सुबह से ही सेतु पर जाम लगा रहा. गांधी सेतु उत्तरी छोर पर पाया संख्या 1 से पाया संख्या 12 तक पश्चिमी लैन को पूरी तरह से बंद कर दिया गया है. इसके साथ ही मालवाहक वाहनों के आवागमन का रूट तय किया गया है.

हाजीपुर से पटना की ओर आने वाली मालवाहक व बड़े वाहनों को गांधी सेतु से ही आने-जाने की इजाज़त होगी. पटना से हाजीपुर की ओर जाने वाली छोटी गाडियां व दोपहिया वाहनों को धुनकी मोड़ से नीचे मोड़ दिया जा रहा है. इसकी वजह से गाय घाट के रास्ते होते हुए पीपा-पुल होते हुए हाजीपुर जा रहें हैं. इसकी वजह से गायघाट के पास वाहनों का दबाव काफी बढ़ गया है, जहाँ ट्राफिक नियंत्रण के लिए जवान और एनसीसी के छात्रों को लगाया गया है.

वहीं पीपा पुल पर गाड़ियां रात में रेडियम और गाड़ी के हेडलाईट के सहारे चलती हैं. एनएच के कार्यपालक अभियंता सुनील कुमार सिंह ने कहा की दीघा-पहलेजा ब्रिज बनने के बाद ही महातमा गांधी सेतु को तोड़ने में हाथ लगाया जाएगा. गांधी सेतु तोड़ने का कार्य जब शुरू होगा तो कोई हादसा हो सकता है. उस वक्त पुल भी बंद करना पड़ सकता है. आठ नंबर स्पैन में आई खराबी के कारण महात्मा गांधी सेतु डेंजर ज़ोन में चला गया है. इसलिए दीघा पुल चालू होने के बाद ही सेतु के स्ट्रक्चर को तोड़ने का काम शुरु किया जाएगा.
gandhi-setu

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*