एक पति और दो-दो बीवियों की दावेदारी, 11 घंटे थाने में चला हाईवोल्टेज ड्रामा

drunk-story_647_081216111848

पटना/फुलवारी शरीफ : आम तौर पर आपने सौतनों को आपस में तो लड़ते-झगड़ते देखा होगा. लेकिन जब बात घरवाली और बाहरवाली की हो तो कहानी में ट्विस्ट आना ही होता है. नगर के बोचाचक में नर्सिंग होम चलाने वाले अरुण कुमार की अय्याशी ने पहली पत्नी यानि घरवाली और दूसरी पत्नी यानी बाहरवाली के चक्कर में फुलवारी शरीफ थाने की पुलिस को ग्यारह घंटे तक परेशांन किये रखा. बाहर वाली ने अपने पक्ष में पुलिस को की फोटो, वीडियो और वायस क्लीप दिखाया. हालाँकि ड्रामे के अंत तक अरुण उसे दूसरी पत्नी मानने से इंकार ही करता रहा. देर रात थाने में घरवाली और बाहरवाली के बीच गुप्त समझौता होने के बाद मामले का पटाक्षेप हो गया.

बक्सर के रघुनाथपुर के निवासी अरुण कुमार का फुलवारी में नोहसा मोड़ के आगे बोचाचक में नर्सिंग होम का कारोबार है. अरुण की पहली पत्नी मीणा देवी ने बताया कि उसकी शादी अरुण से करीब इक्कीस वर्ष पहले 1996 में हुयी थी और उससे बच्चे अब बड़े हो गये हैं. रसिक मिजाज अरुण का चक्कर लखीसराय की पूजा से चलने लगा और वह उसे अक्सर घुमाने बाहर भी ले जाता.

drunk-story_647_081216111848

पूजा ने बताया कि इस बीच जब उसे पता चला कि अरुण पहले से ही शादी शुदा है तो वह उससे झगड़ने लगी. दोनों के विवाद में तय हुआ कि अरुण सप्ताह के तीन दिन पहली पत्नी और तीन दिन दूसरी के साथ रहेगा. घरवाली और बाहरवाली के चक्कर में शुक्रवार को मामला फुलवारी शरीफ थाने में पहुच गया और सुबह दस बजे से शुरू हुआ हाई वोल्टेज ड्रामा रात नौ बजे तक चलता रहा.

दूसरी पत्नी का दावा करने वाली पूजा ने अरुण के खिलाफ मामला दर्ज करा जेल भेजवाने के लिए पुलिस से गुहार लगाती रही. इस बीच करीब ग्यारह घंटे बाद पहली पत्नी और दूसरी पत्नी के बीच वार्तालाप ने मामले को समझौता की पटरी पर ला दिया. देर रात थाने में दोनों पक्ष लिखित पत्र देकर निकल गये तब पुलिस ने भी राहत की साँस ली.

अजीत की रिपोर्ट

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*