महिला IAS अधिकारियों की मेडिकल जांच बिहार में अधिक महंगी होगी

पटना : बिहार सरकार ने माना है कि सूबे के सरकारी अस्‍पतालों में मरीजों की संख्‍या अधिक है . ऐसे में आईएएस अधिकारियों को असुविधा न हो,इसके लिए विशेष व्‍यवस्‍था की गई है . चालीस पार कर चुके सभी आईएएस अधिकारियों को प्रत्‍येक वर्ष मेडिकल जांच कराना होगा . हैरत की बात यह है कि सरकार ने आईएएस अधिकारियों के मेडिकल जांच के लिए जो पैकेज बनाया है,वह महिला आईएएस अधिकारियों के लिए अधिक महंगा है . फिर भी यह माना जा रहा है कि आईएएस अधिकारियों के लिए पैकेज की कीमत आम लोगों के लिए तय कीमत से कम है .

स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के प्रधान सचिव आर के महाजन ने इस बाबत आधिकारिक रुप से सामान्‍य विभाग के प्रधान सचिव को पत्र लिखा है . इस पत्र में कहा गया है कि आईएएस अधिकारियों को मरीजों की संख्‍या के कारण असुविधा न हो,इसके लिए आवश्‍यक व्‍यवस्‍था की जा रही है .

सभी आईएएस अधिकारी पटना मेडिकल कालेज अस्‍पताल और इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्‍थान के अलावा निकट के मेडिकल कालेज व मान्‍यता प्राप्‍त संस्‍थान में वार्षिक मेडिकल जांच करा सकते हैं . जांच निजी चिकित्‍सा संस्‍थान में भी कराई जा सकती है . आईएएस अधिकारियों की सुविधा का ख्‍याल रखते हुए पटना/भागलपुर/मुजफ्फरपुर/दरभंगा/गया के मेडिकल कालेजों के अधीक्षक के अलावा इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्‍थान के जनसंपर्क अधिकारी का नंबर भी जारी किया गया है . साथ में यह कहा गया है कि वे जांच कराने का समय निर्धारित कर संबंधित अस्‍पताल को पूर्व सूचना दे दें,ताकि उनके लिए  समुचित व्‍यवस्‍था कराई जा सके .

सामान्‍य प्रशासन विभाग ने आईएएस अधिकारियों के मेडिकल जांच के लिए जो पैकेज तैयार किया है,उसमें पुरुष आईएएस अधिकारियों को दो हजार रुपये और महिला आईएएस अधिकारियों को 2200 रुपये देने होंगे . एक्‍स–रे,अल्‍ट्रासाउंड और ईसीजी की सुविधा प्राप्‍त करने के पहले सभी प्रकार के पैथोलाजिकल जांच कराने और रिपोर्ट जमा करने की सलाह दी गई है . वार्षिक मेडिकल रिपोर्ट सरकार को सबमिट की जाएगी .

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*