तेल व्यापारी के यहां आयकर विभाग की रेड

पटना (मनोज प्रियदर्शी) : राजधानी के दानापुर इलाके के एक तेल व्यापारी के ठिकाने पर गुरुवार को आयकर विभाग ने छापेमारी की है. बताया जा रहा है कि उक्त व्यापारी ने नोटबंदी के दौरान जमा कराये गए रकम का अभी तक ब्यौरा नहीं सौंपा है.

मिल रही जानकारी के अनुसार दानापुर के खगरी रोड स्थित शिव शॉ मिल पर आयकर विभाग की दस सदस्यीय टीम ने छापेमारी की है. उक्त शॉ मिल मनोज कुमार साह की है. साह के ठिकानों से पिछले दिनों पुलिस ने लाखों रूपये मूल्य का नकली तेल भी बरामद किया था. आयकर विभाग के उपायुक्त वागीश चंद्र मिश्रा के नेतृत्व में टीम व्यवसायी के ठिकाने पर कागजातों और बैंक खातों की जांच कर रही है. ताजा जानकारी मिलने तक छापेमारी चल रही थी.

उधर फुलवारी के सब्जपूरा में भी नोटबंदी के दौरान जमा-निकासी का ब्यौरा छिपाने के एक मामले में आयकर विभाग छापेमारी कर रही है.





बता दें कि पिछले साल नवम्बर माह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा की गयी नोटबंदी के बाद से ही आय से अधिक संपत्ति रखने वालों पर केंद्रीय एजेंसियों की नजर है. पिछले दिनों आई ख़बरों के अनुसार आयकर विभाग बिहार के भी करीब 2 हजार खातों कि निगरानी कर रही थी. इनमें भी ऐसे खातों जिनमें नोटबंदी के बाद 1 करोड़ से अधिक के लेनदेन हुए हैं उन पर आयकर विभाग विशेष नजर रखे हुए थी. बताया जा रहा था कि इनमें पटना के एक बैंक के 80 खातों पर भी विभाग की नजर है. इस क्रम में आयकर विभाग ने पटना के कई स्वर्ण व्यवसायियों के यहां भी पिछले दिनों छापेमारी की थी.

नोटबंदी के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्र सरकार ने भी बेनामी बैंक खातों पर कार्रवाई करने की बात जोर-शोर से कही थी. उनकी इस मुहीम का बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी समर्थन किया था.

यह भी पढ़ें :

बिहार के 2000 बैंक खातों पर IT की नजर

नोटबंदी : अगर हो इन खातों की जांच तो लग जाएंगे 8 साल

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*