इंसानियत अभी जिन्दा है… दस हजार रुपये के असली मालिक को ढूंढ रहे मो. शोएब

sheohar
लाइव सिटीज डेस्क/शिवहर : दुनिया में कुछ हैवान लोग ऐसा काम कर देते हैं कि लगता है समाज, दुनिया में हैवानियत, दरिंदगी और जुर्म के अलावा किसी अच्छी चीज का अस्तित्व नहीं. लेकिन कुछ लोग ऐसे हैं जो यह साबित कर देते हैं कि दुनिया में अभी भी इंसानियत बाकी है, मेरे दोस्त. लूट-खसोट के इस दौर में ईमानदारी और इंसानियत की कहीं कोई मिसाल देता है तो लोग उसकी जमकर तारीफ और सराहना करते हैं.
आज के कथित स्वार्थी जमाने में भावनाओं और संवेदना की मिसाल नगर पंचायत के वार्ड 9 निवासी मोहम्मद शोएब ने पेश की है. जिसकी जितनी तारीफ की जाए कम है. जब मोहम्मद शोएब अपने निजी काम से 30 मार्च 2017 को सुबह में 9:29 में मेन रोड शिवहर पर स्थित बैंक ऑफ इंडिया के एटीएम में गए तो कुछ ऐसी स्थिति देखकर आश्चर्यचकित रह गए. उन्होंने देखा की ATM मशीन से पैसा निकलने वाले जगह में 500 के 20 नए नोट कुल 10000 रू0 उस जगह पर मौजूद थे तथा रुपए के स्लिप भी मौजूद था.
sheohar
उस वक्त ATM के अंदर कोई नहीं था और उस 10000 रुपए को पाकर मोहम्मद शोएब आश्चर्यचकित हुआ तथा उस रुपए और रिसीप्ट को उठा लिए. उस रिसीप्ट पर कार्ड नंबर 5103**********4 तथा 48160 .60 बैलेंस लिखा हुआ था. उन्होंने तुरंत उस ATM के आसपास के लोगों को इसके बारे में सूचना दी ताकि जिसका पैसा हो वह ले जाएं.
जब उस पैसे का असली मालिक नहीं मिला तो शोएब ने इंसानियत को प्रस्तुत कर उस पैसे को तथा स्लिप को अपने पास जमा कर लिया और कहा कि जिस व्यक्ति का रुपया है वह अपना साक्ष्य पेश कर ले जाएं. उन्होंने अपना पता- मोहम्मद शोएब, अली नगर पेट्रोल पंप शिवहर, वार्ड-9 बताया है.  नगर में यह चर्चा काफी जोरों पर है. मोहम्मद शोएब ने कहा की वह पैसा उनके लिए हराम है और जब उसका असल मालिक मिल जायेगा तभी उन्हें सुकून मिलेगा.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*