बिहार दिवस Live : गांधी मैदान में मालिनी अवस्थी संग लोकगीतों पर झूमा पटना

पटना: बिहार दिवस का दूसरा दिन लोकगायिका मालिनी अवस्थी के नाम रहा. लोकगीत रेलिया बैरन पिया को ले के जाए रे …. लोक गीत पर मस्ती के मेले में सब भूल-भाल कर लोग झूमते रहे. इसके बाद एक से एक लोकगीत गाकर मालिनी ने लोगों को झुमाने पर मजबूर कर दिया. कुल मिलकर गुरुवार की शाम भोजपुरी गायिका मालिना अवस्थी के नाम रही, उनके सूरों का जादू कुछ इस तरह चढ़ा, लोग मदमस्त हो गए.  मालिनी ने गाते-गाते ये भी बता दिया कि लोकगीत घरों के आगंन के गीत हैं.

गाते गाते लोगों के बीच पहुंची

लोकगीत गुलबिया सरिया गाते-गाते  वो लोगो के बीच भी आई. उनके मंच से नीचे आते ही लोगो ने सेल्फी लेना शुरू कर  दिया. सुरक्षा कर्मियों ने उन्हें ऊपर जाने को कहा. फिर वो वापस मंच पर चली गईं. लोगों ने उनसे फिर से नीचे आने को कहा, मगर मालिनी दुबारा नीचे नहीं आ पायीं.

गांधी मैदान में आज कल की तरह युवाओं भीड़ नहीं उमड़ी. बल्कि, आज लोग अपने पूरे परिवार के साथ मालिनी को देखने और सुनने आए थे. मालिनी की गीतों पर लोगों ने अपने परिवार के साथ खूब आनंद उठाया.

एक नज़र मालिनी अवस्थी पर

मालिनी अवस्थी कन्नौज, उत्तर प्रदेश में पैदा हुईं. भातखंडे संगीत संस्थान लखनऊ से उसने शिक्षा प्राप्त की. वह बनारस की पौराणिक हिंदुस्तानी शास्त्रीय गायका, गिरिजा देवी जी की शिष्य हैं. उनकी शादी  वरिष्ठ आईएएस अधिकारी, अविनीश अवस्थी से  हुई है. भारत सरकार ने उन्हें 2016 में वरिष्ठ नागरिक सम्मान पदम श्री से सम्मानित किया.

यह भी पढ़ें : मुम्बई में बिहार दिवस की धूम : ‘नशा-मुक्ति’ पर हुई विशेष प्रस्तुति

बिहार दिवस : ‘बिहारियों में दम है, बोझ बनते नहीं बोझ उठाते हैं’

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*