‘फिनिशर धोनी’ ने खेली तूफानी पारी, बैटिंग के बारे में दिया ये बयान

ms-dhoni

लाइव सिटीज डेस्क : दुनिया के सर्वश्रेष्ठ फिनिशर माने जाने वाले महेंद्र सिंह धोनी ने एक बार फिर बताया कि उन्हें क्यों यह खिताब मिला है. धोनी ने मुश्किल समय में 34 गेंदों में तीन छक्के और पांच चौकों की मदद से 61 रनों की नाबाद पारी खेलते हुए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 10वें संस्करण के 23वें मैच में शनिवार को राइजिंग पुणे सुपरजाएंट को सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ छह विकेट से जीत दिलाई.

मैन ऑफ द मैच चुने गए धोनी ने कहा कि वह अपने ऊपर बढ़ते हुए रन रेट का दबाव नहीं लेते. मैच के बाद धोनी ने कहा, “ऐसी कोई रन रेट नहीं जो ज्यादा हो. यह सिर्फ इस बात पर निर्भर करता है कि विपक्षी टीम के गेंदबाज किस तरह से गेंदबाजी करते हैं. इसलिए सात, आठ, नौ, दस की रन रेट मायने नहीं रखती. जो मायने रखता है वो यह है कि आप अपने आप को कितना शांत रखते हो.” धोनी ने मनोज तिवारी की भी तारीफ की. तिवारी ने अंत में धोनी का बखूूबी साथ दिया. धोनी ने कहा, “आप हमेशा इस तरह के मैच नहीं जीत सकते. हमने काफी अच्छा प्रदर्शन किया. मनोज ने अच्छा योगदान दिया जो महत्वपूर्ण था क्योंकि उसने ज्यादा गेंदें नहीं खाईं.”

धोनी ने माना की लक्ष्य का पीछा करना आसान नहीं था. उन्होंने साथ ही कहा कि पुणे की टीम इसलिए जीती क्योंकि उसके पास बड़े शॉट लगाने वाले बल्लेबाज हैं. उन्होंने कहा, “यह मुश्किल था. लेकिन हमारे पास बड़े शॉट खेलने वाले बल्लेबाज हैं. हमारे लिए यह जरूरी था कि हम राशिद खान को आराम से खेलें और दूसरी तरफ से तेजी से रन बनाते रहें.”

धोनी की तारीफ करते हुए पुणे के कप्तान स्टीवन स्मिथ ने कहा, “अंत में काफी करीबी मैच हो गया था लेकिन, धोनी ने वही किया जो वो लंबे समय से करते आ रहे हैं. दबाव में वह एक बार फिर सफल साबित हुए.” छह विकेट से मिली इस जीत के बाद पुणे की टीम आठ टीमों की अंकतालिका में सबसे नीचले स्थान से चौथे स्थान पर आ गई है. स्मिथ को भरोसा है कि आगे चार मैच घर में होने के कारण टीम और ऊपर जाएगी.

यह भी पढ़ें- बेन स्‍टोक्‍स हुए धोनी के दीवाने, स्टेडियम में धोनी-धोनी की गूंज सुनाई देती है

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*