हत्या का मामला : 24 घंटे बाद भी पुलिस खाली हाथ, तांत्रिक पर शक गहराया

hatya

पटना सिटी (जुलकर नैन) : पटना सिटी के नदी थाना क्षेत्र के सबलपुर शमशान घाट से सोमवार की सुबह गुल्मोहियाचक निवासी हवलदार शंभू राय के बेटे उपेंद्र राय उसकी पत्नी इन्दु देवी और 12 वर्षीय पुत्र रोहित का शव मिलने के मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ मृतक उपेंद्र राय के भाई धर्मेन्द्र यादव के बयान पर दर्ज की गयी है. मामले की जांच दीदारगंज के इंस्पेक्टर लक्ष्मण प्रसाद करेंगे. हलांकि ये अभी तक स्पष्ट नहीं हो पाया है कि हत्या का मामला है या आत्महत्या का मामला है.

वारदात की जगह पर एक मंदिर भी है, जहाँ पर हरीबाबा उर्फ लाल बाबा नाम का एक तांत्रिक रहता था, जो घटना के बाद से ही फरार है. पुलिस को शक है कि कहीं तांत्रिक ने ही तंत्र साधना के लिए तीनों की बली तो नहीं चढ़ा दी. तांत्रिक के पास इन्दु अपने पति और पुत्र रोहित को लेकर के अक्सर जाती थी, क्यूंकि दोनों अक्सर बीमार रहते थे, ऐसा पुलिस को मृतक उपेंद्र राय के भाई धर्मेन्द्र यादव ने कहा है. अब तक पुलिस को पोस्टमार्टम की रिपोर्ट नहीं मिली है. पुलिस का कहना है कि रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के कारण का पता लग पाएगा.

hatya

मृतक उपेंद्र राय ऑटोचालक था. वो ऑटो चला कर के अपने परिवार का भरण-पोषण करता था. कुछ समय से वो मानसिक रूप से विक्षिप्त हो गया था. इसी कारण से घर के लोग उपेंद्र से परेशान रहते थे. वहीं पुलिस का कहना है तांत्रिक की खोज के लिए कई जगहों पर छापेमारी की जा रही और इस संबंध में आस पास के लोगों से भी पूछताछ की जा रही है.

यह भी पढ़ें- दो साल से पड़ोसी के साथ फरार महिला बरामद 

नगर निकाय चुनाव : अधिसूचना जारी, आचार संहिता लागू

मृतक उपेंद्र राय के बच्चों को विश्वास नही हो रहा है कि उसके माता-पिता और भाई अब इस दुनिया में नही रहे. मृतक उपेंद्र राय के चार बच्चे हैं, जिसमें मृतक रोहित कुमार, रौशन कुमार, सचिन कुमार और एक बेटी मुस्कान है. मृतक उपेंद्र राय के पिता हवलदार शंभू राय ने तांत्रिक पर ही हत्या का आरोप लगाया है और पुलिस से तांत्रिक की गिरफ्तारी की माँग की है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*