मोदी-नंदकिशोर खेमा को झटका, मंगल पांडेय की भी नहीं चली

BJP leader

पटना : भाजपा की नयी टीम में सुशील मोदी और नंदकिशोर यादव के खेमे को धीरे से किनारे कर दिया गया है. मंगल पांडेय के लोगों की भी छंटनी कर दी गयी. प्रदेश भाजपा अध्यक्ष नित्यानंद राय ने नयी टीम में नये चेहरों को तरजीह देने की कोशिश की है. साथ सामाजिक संतुलन बनाने का भी प्रयास किया है. पुरानी टीम के अधिकतर चेहरों को नयी टीम में नहीं रखा गया है.

प्रदेश भाजपा की नयी टीम पर नजर डालें तो पाते हैं कि पूर्व अध्यक्ष मंगल पांडेय की टीम के चारों महामंत्रियों को बाहर का रास्ता दिखा दिया गया. विनोद नारायण झा को मुख्य प्रवक्ता और संजय मयूख को प्रवक्ता एवं उपाध्यक्ष पद से मुक्त कर दिया गया. नित्यानंद की टीम में महामंत्री पद की जिम्मेदारी राजेंद्र सिंह, राधामोहन शर्मा, प्रमोद चंद्रवंशी और सुशील चौधरी को सौंपी है. विधायक नितिन नवीन को भाजपा युवा मोर्चा का अध्यक्ष बनाया गया है.

प्रदेश भाजपा की कार्य समिति की नयी टीम में वरीय भाजपा नेता व पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी और पूर्व मंत्री नंदकिशोर यादव के कैंप की एक तरह से छुट्टी कर दी गयी है. यूं कहें कि पुरानी कार्यसमिति के 80 परसेंट चेहरे नयी टीम में नहीं देखने को मिलेगा. लोजपा एमएलसी नूतन सिंह से दुर्व्यवहार के मामले में विवादों में आए विधान पार्षद लालबाबू प्रसाद का पत्ता साफ हो गया है. वे पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष थे. नयी टीम की जारी लिस्ट से लालबाबू का नाम गायब है.

गौरतलब है कि भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष ने गुरुवार की देर रात नयी टीम में शामिल 249 सदस्यों की सूची जारी कर दी है. इसमें महिला, पिछड़ा व अति पिछड़ों पर जोर दिया गया है. प्रदेश उपाध्यक्ष के पद से एमएलसी संजय मयूख को हटा कर कार्यसमिति का सदस्य बना दिया गया है. उन्हें जल्द राष्ट्रीय टीम में भेजने की चर्चा है.  नयी सूची से साफ पता चलता है कि खास कर मोदी और नंदकिशोर खेमों को किनारा करते हुए नये चेहरों को टीम में लाया गया है. सूची को देखें तो पता चलता है कि पार्टी ने भविष्य की राजनीति और इसकी रणनीति पर अभी से काम करना शुरू कर दिया है.

इन्हें भी पढ़ें :  बिहार भाजपा की नई कार्यसमिति को यहां देखें,कोई भी नाम नहीं छूटा है

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*