गांवों में एटीएम नहीं, दुकान से उधार लेकर चल रहा काम

पटना :  नोटबंदी के बाद देश का हर तबका परेशान है. लेकिन, ग्रामीण इलाकों में लोगों की परेशानियां काफी बढ़ी हुई है। खासकर उन इलाकों में लोगों की परेशानियां ज्यादा हैं जहां आज भी बैंकिंग सुविधाएं मजबूत नहीं है और जहां एटीएम सुविधा नहीं है। शहरों में बैंकिंग सुविधा मजबूत रहने तथा एटीएम और प्लास्टिक मनी के उपयोग के कारण समस्याओं का समाधान बहुत हद तक खोज लिया जा रहा है. लेकिन, बिहार के कई गांवों में आज भी लोग परेशान हैं जहां बैंकिंग सुविधा ना के बराबर है।

 

पटना जिला के मोकामा प्रखंड के गांवों की यही स्थिति है। मोकामा के नौरंगा जलालपुर पंचायत में मात्र एक बैंक है और इस बैंक पर चार पंचायत के 13 गांवों का लोड है। 4 पंचायतों के 13 गांव के हजारों लोग इसी बैंक पर बैंकिंग सेवाओं के लिए आश्रित हैं और अफसोस है कि इस बैंक का अपना कोई एटीएम नहीं है। लोग परेशान हो रहे हैं। बैंक लोगों के पैसे तो जमा कर ले रहा है लेकिन पैसे देने के नाम पर उपभोक्ताओं को लौटाया जा रहा है। हालात यह है कि नोट बदलने का भी काम नहीं हो रहा है। नौरंगा जलालपुर, रामपुर डुमरा, मालपुर के कई लोगों ने बताया कि बैंक में पांच घंटे लाइन में लगने के बाद पैसा जमा हो जा रहा है लेकिन बैंक वाले से जब पैसा मांगा जाता है तो 10 दिन बाद आने को कहा जाता है।

mokama-pic-jalalpur-pnb-me-line-me-log-2-new

रोजाना काम करने वाले मजदूरों की हालत और भी खराब है। काम करने के बाद पैसा नहीं मिला रहा है और यदि पैसा मिल रहा है तो काम करवाने वाले 500-1000 के नोट थमा दे रहा है। सिंघो पासवान दिहाड़ी मजदूर हैं। पास में पैसा नहीं है और बैंक रोज लौटा रहा है। किसी तरह दुकान से उधार लेकर काम चला रहा है। दुकानदार के रहम पर घर का चूल्हा जलवा रहे सिंघो के सामने मुश्किल है कि बैंक अब दस दिनों के बाद पैसा देगा। यही हालत मरांची के पंजाब नेशनल बैंक शाखा की है। सुबह बैंक खुलने से पहले ही सैकड़ों लोग बैंक खुलने का इंतजार करते मिले और पूछने पर बताया कि बैंक में नोट बदलने की सुविधा नहीं है। बैंक वाले खाते में पैसा जमा कर लेते हैं लेकिन देने के नाम पर टरकाते हैं। लोगों ने सरकार की नोटबंदी को बढ़िया बताया लेकिन परेशानियाँ बढ़ी होने से लोग खीज भी दिखा रहे हैं। पंजाब नेशनल बैंक के मरांची शाखा में दर्जनों लोग कतार में हैं। कतार में कहड़े रामसागर सिंह  बैंक की लापरवाही से झल्लाते हुए पूछते हैं हमने कौन सा माल दबा रखा है जो बैंक परेशान कर रहा है।

mokama-pic-maranchi-pnb-me-bheed-new

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*