चक्रवात ने दी बिहार को ठंडक तो पटना को बिजली से मिलेगी राहत

लाइव सिटीज डेस्क : पटना वासियों के लिए राहत भरी खबर है. एक ओर जहां  कल तड़पती हुई गर्मी के बीच चक्रवाती हवा के कारण मौसम ने करवट लेते हुए बिहार के पश्चिम और पूर्वी चंपारण, मधुबनी, सीतामढ़ी, बांका और भागलपुर सहित कुछ स्थानों पर हल्की वर्षा से ठंडक दी. वहीं इसका असर पटना में भी देखने को मिला. लोगों को ठंडी हवाओं से इस चिपचिपी गर्मी से राहत मिली. इसी बीच पटना वासियों को बिजली विभाग की ओर से मिल रहे सन्देश से भी राहत मिलने वाली है.

PESU ने दावा किया है कि इस गर्मी में कोई लोड शेडिंग नहीं होगी. मतलब कोई पॉवर कट नहीं. हालांकि राजधानी क्षेत्र में गर्मी की शुरुआत में ही फ्रीक्वेंट बिजली का गुल होना, 15-20 मिनट के बाद वापस आ जाना शुरू हो चुका है.  बावजूद इसके बिजली विभाग का यह दावा कि गर्मियों में कोई लोड शेडिंग नहीं होगी, इससे लोग राहत महसूस कर सकते हैं.

सूत्रों ने कहा कि अगर अब बिजली गुल होती है तो महज 15 से 20 मिनट के भीतर फिर से बिजली बहाल हो इसके लिए वैकल्पिक व्यवस्था की गई है.   

आशियाना नगर निवासी चंदन कुमार कहते हैं कि यह सही है कि पिछले कुछ समय से लम्बे समय के लिए बिजली बाधित नहीं हुई है. लेकिन बार-बार 15-20 मिनट के लिए एक दिन में कम से कम 4 बार बिजली गुल हो जाती है. लेकिन 15 मिनट बाद पुनः आ जाती है.

PESU के जनरल मैनेजर दिलीप कुमार ने कहा कि कुछ देर के लिए जो पॉवर कट होती है वो इमरजेंसी ब्रेक डाउन, या छोटे-मोटे मेंटेनेंस कार्य के लिए की जाती है. वैसे कोई समस्या नहीं है.

दिलीप कुमार के अनुसार, गर्मी से पटना के किसी भी घर में बिजली की समस्या न हो इसके लिए पहले से ही सारी व्यवस्थाएं कर ली गईं हैं. 33KV के दो फीडर को इंस्टाल किया गया है. एक एसके मेमोरियल हॉल के पास और दूसरा मौर्यलोक के पास.  वहीं पूरे पटना जिले के लिए 350 रिंग मैन यूनिट्स और ट्रांसफार्मर इंस्टाल किये गये हैं. ताकि निर्बाध बिजली लोगों के घरों में मिल सके.  जेनरली लोड शेडिंग तब होती है जब डिमांड सप्लाई से ज्यादा हो या बिजली की उपलब्धता ही न हो.

यह भी पढ़ें-  बिजली उपभोक्ताओं को मिल गयी राहत,मुख्यमंत्री ने किया सब्सिडी का एलान

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*