पैदल चल कमिश्नर और DM ने लिया घाटों का जायजा, दिया जा रहा है फाइनल टच

पटना : एक बार फिर पटना के​ डिवीजनल कमिश्नर आनंद किशोर और डीएम संजय अग्रवाल छठ महापर्व की तैयारियों का जायजा लेने गंगा घाटों पर पहुंच गए. चल रही तैयारियों को फाइनल टच दिया जा रहा है. इस लिए कमिश्नर और डीएम दिन के उजाले की शाम ढ़लने के बाद निकले.

मंगलवार के इस इंस्पेक्शन में अधिकारियों ने लाइट्स अरेंजमेंट्स को अच्छे से चेक किया. हर प्वाइंट पर अधिकारियों को प्रोपर लाइट मिली. चाहे वो घाट जाने वाले कनेक्टिंग रोड हों या फिर गंगा का किनारा. अधिकारियों की टीम ने हर जगह को अच्छे से खंगाला. बांस घाट, कलेक्ट्रियट घाट और महेन्द्रू घाट पर कमिश्नर और डीएम खुद गए.

गाड़ियों में बैठकर घूमने के बजाए कमिश्नर और डीएम के साथ ही अधिकारियों की पूरी टीम पैदल चली. जिस जगह पर खामियां दिखीं, मौके पर ही उन खामियों को दूर करने का आदेश कमिश्नर की ओर से दिया गया. अशोक राजपथ से बांस घाट जाने वाली रोड को पानी डालकर बराबर किया जा रहा है. इलेक्ट्रिक वायर थोड़े नीचे थे. जिससे छठ व्रतियों और श्रद्धालुओं को आने—जाने में परेशानी होती. नजर पड़ते ही कमिशनर ने उसे उंचा करने का आदेश दिया.

बांस घाट से कलेक्ट्रियट घाट जाने का रास्ता थोड़ा खराब है. इसलिए रोलर मंगवाकर कल शाम तक पूरे रास्ते को ठीक कराने का आदेश बुडको के डायरेक्टर को दिया गया है. एक खास बात ये है कि एडमिनिस्ट्रेशन ने कलेक्ट्रियट घाट के पास करीब 2500 गाड़ियों के पार्किंग का अरेंजमेंट किया है. इससे दूर—दराज से आने वाली छठ व्रतियों व श्रद्धालुओं को फायदा होगा.

महेन्द्रू घाट में अपने इंस्पेक्शन के दौरान कमिशनर ने पीपा पुल के पास अधूरे रास्ते को बैरिकेडिंग कर बंद करने और पुल पर रबड़ का शिट्स लगाने का निर्देश दिया. इससे श्रद्धालुओं को परेशानी नहीं होगी.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*