NIT नाव हादसा मामले में पर्यटन विभाग के एक और अधिकारी पर कार्रवाई

पटना : जनवरी माह में राजधानी के NIT घाट पर हुए भीषण नाव हादसा मामले में बुधवार को राज्य सरकार ने एक और कार्रवाई की है. ताजा कार्रवाई में पर्यटन विभाग के अधिकारी राकेश मोहन का तबादला कर दिया गया है. उन्हें अब जल संसाधन विभाग में भेज दिया गया है.

इस मामले में सोनपुर एसडीपीओ अली अंसारी और एसडीओ मदन कुमार को पहले ही सस्पेंड किया जा चुका है. साथ ही इनके खिलाफ कार्रवाई करने के भी आदेश दिए गए हैं. वहीं पटना एडीएम राजेश चौधरी का भी सामान्य प्रशासन विभाग में ट्रांसफर कर दिया गया. इसी मामले में पर्यटन विभाग के बड़े अधिकारियों पर भी गाज गिरी थी. पर्यटन विभाग की प्रधान सचिव हरजीत कौर तथा निदेशक उमाशंकर प्रसाद का भी तबादला कर दिया गया था. साथ ही छपरा के एसपी पंकज कुमार राय का भी तबादला करते हुए उन्हें मुख्यालय में पदस्थापन की प्रतीक्षा में भेज दिया गया था.




इन सभी अधिकारियों पर पतंगोत्सव के दौरान सुरक्षा व्यवस्था में गंभीर चूक के आरोप थे. इस मामले की जांच के लिए बनायीं गयी कमिटी ने बीते 10 फ़रवरी को अपनी रिपोर्ट गृह विभाग को सौंपी थी. इस रिपोर्ट में घटना की वजह प्रशासनिक चूक बतायी गयी थी. रिपोर्ट में कहा गया था कि प्रशासन और पर्यटन विभाग की तरफ से दियारा में लोगों को पतंगोत्सव में शामिल होने के लिए तो बुलाया गया था, लेकिन उन्हें वापस भेजने के लिए प्रशासन की तरफ से बेहतर इंतजाम नहीं किये गए थे. इस जांच कमिटी में आपदा विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत और डीआईजी शालीन शामिल थे.

हालांकि राज्य सरकार द्वारा की गयी इन कार्रवाइयों का विरोध भी हो रहा है. इन अधिकारियों पर कार्रवाई से बिहार प्रशासनिक सेवा संघ व बिहार पुलिस सर्विस एसोसिएशन नाराज है और उन्होंने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है.

यह भी पढ़ें :

राज्य के पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी भी गरमाए

नाव हादसे में अधिकारियों पर कार्रवाई से भड़का बिप्रसे संघ

मस्तान पर विधानसभा ठप्प, जदयू ने कहा- भाजपा का व्यवहार अनैतिक

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*