3 दिनों तक रहा लापता, फिर मिली ईंट-पत्थर से कुचली हुई लाश

फुलवारी शरीफ:फुलवारी शरीफ के नया टोला के अल ग्यास नगर में अपराधियों ने एक युवक की हत्या कर शव को निर्माणाधीन मकान की चाहरदीवारी में फेंक कर फरार हो गये . मृतक का चेहरा बुरी तरह कुचल दिया गया था जिससे उसे पहचानना मुश्किल हो रहा था . शव में कीड़े पद चुके थे जिससे आशंका जताई जा रही है की हत्या तीन दिन पहले ही किया गया था . मृतक  युवक की शिनाख्त अल ग्यास नगर निवासी ऑटो चालक मो सय्यद के बड़े बेटे मो विक्की के रूप में होते ही परिजनों में चीत्कार मच गया .

वहीँ पूरे मुहल्ले में रमजान का माहौल ग़मगीन हो गया . बेरोजगार विक्की काम की तलाश में तीन दिन पूर्व ही शनिवार की सुबह घर से निकला था. परिजनों को लगा की कहीं काम की तलाश में गया होगा. इधर मंगलवार की शाम उसके घर से दक्षिण बधार में एक निर्माणाधीन मकान के डोर लेबल के चाहरदिवारी से फेंका हुआ बरामद होते ही इलाके में सनसनी फ़ैल गयी. ट्रेनी आईपीएस सह थानेदार योगेन्द्र कुमार दल बल के साथ पहुंचे और शव को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए पीएमसीएच भेज दिया .

ऑटो चालक मो सय्यद के पांच पुत्रों में सबसे बड़ा बेटा मो विक्की खलीलपुरा के पिंकू के यहाँ गेट ग्रील का काम पिछले छः माह से छोड़ चुका था . बेरोजगारी की हालत में दोस्तो के साथ इधर उधर काम की तलाश में भटक रहा था . इसी बीच शनिवार की सुबह वह अपने घर से निकला लेकिन वापस नहीं लौटा तो परिजन सोचे की काम की तलाश में कहीं चला गया होगा . मंगलवार की शाम  निजी गैस एंजेंसी के पीछे ताज नगर स्थित एक निर्माणाधीन परिसर में चरवाहों ने बदबू आने के बाद देखा और शोर मचाया . मृतक का चेहरा अपराधियों ने इस कदर ईट पत्थरों से कूच दिया था की उसे पहचानना मुश्किल हो रहा था. मे कीडे भी पड चुके थे. ऑटो चालक मो सैयद ने अपने 18 वर्षीय पुत्र मो विक्की के रूप मे उसकी शिनाख्त उसके पैर में छः उंगलियों से की . शव की पहचान होते ही परिजनों मे कोहराम मच गया.  परिजनों का आरोप है कि सूचना देने के घंटो बाद पुलिस घटनास्स्थ्ल पर पहुंची . वहीँ घटनास्थल बधार में काफी अँधेरा होने पर पुलिस को वहां पहुंचने में परेशानी हुयी . 

मृतक के पिता ऑटो चालक मो सैयद ने बताया कि शनिवार को  विक्की घर से निकला था तब से वह घर नहीं लौटा तो समझा कि वह काम के तलाश मे निकला है. वैसे अपने स्तर पर पता लगा रहे थे कि कहाँ गया लेकिन कहीं पता नही चला. मंगलवार की शाम जब स्थानीय लोगों ने ताज नगर के निर्माणाधीन मकान से एक शव मिलने की सूचना दी. घटनास्थल पर जाकर देखा तो लाश के पैर में छः ऊँगली से बेटे मो विक्की के रूप में शिनाख्त किया . 

ट्रेनी आईपीएस सह थानेदार योगेन्द्र कुमार के नेतृव में पुलिस घटना स्थल पर पहुंच कर छानबीन शुरू कर दी. पुलिस का कहना है कि मो विक्की की गुमशुदगी का मामला थाना में दर्ज नही कराया गया था. पुलिस हर पहलु को ध्यान में रखकर मामले की तफ्तीश में जुटी है . थानेदार ने बताया की हत्या के कारणों का पता लगाया जा रहा है.  मृतक का मोबाइल बरामद नही हुआ है  .

बड़े बेटे की हत्या के बाद माँ बाप का हालत बिगड़ीचार छोटे छोटे भाईयो का भी बुरा हाल 

ऑटो चालक मो सय्यद के बड़े बेटे की हत्या के बाद पिता सय्यद शव देखते ही बेहोश हो गये जबकि माँ का कलेजा फट पड़ा . माँ शाहीन खातून, पिता मो सय्यद की हालत देख मृतक के चार छोटे भाईयों  प्रिंस , रॉकी , लक्की , सलमान का भी रो रो कर बुरा हाल हो रहा था.  मृतक के भाई प्रिंस नेबताया कि  खलीलपुरा स्थित पिंकू के गेट ग्रिल दूकान में काम करता था मगर छह माह पहले वह काम छोड दिया था. काम की तलाश में वह इधर उधर काम की तलाश में लगा था. मगर काम नही मिलने के कारण वह परेशान रहता था.  माँ रो रो कर बार-बार यही रट लगाये जा रही थी कि या अल्लाह उसके बेटे ने किसी का क्या बिगाड़ा था कि मार दिया. आस पास की दर्जनों महिलायें रोते बिलखते परिजनों को सँभालने की कोशिश में खुद ही बिलखने लगती .

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*