पटना में दर्ज हैं फर्जीवाड़े के कई मामले, भेजा गया जेल

पटना : फर्जीवाड़ा के मामले में पटना पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है. वरीय पदाधिकारियों के निर्देश पर दानापुर की पुलिस ने कनिष्का बिल्डकॉन प्राइवेट लिमिटेड के CMD प्रवीण कुमार सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया है. गिरफ्तारी के तुरंत बाद पुलिस ने कोर्ट में पेश किया, जहां से न्यायिक हिरासत में प्रवीण कुमार सिंह को जेल भेज दिया गया.

पटना पुलिस का कहना है कि इस बिल्डर के खिलाफ काफी शिकायतें लंबे अरसे से रही है. कुछ मामलों में इन्होने कोर्ट से पुलिस की कार्रवाई को स्टे करा रखा था. आज गिरफ्तारी दानापुर के नयाटोला के अजय कुमार राय की प्राथमिकी के मामले में की गई है. प्रारंभिक जानकारी के मुताबिक़ कनिष्का बिल्डकॉन ने अजय कुमार राय की जमीन को डेवलप करने के लिए काफी पहले लिया था. लेकिन प्रोजेक्ट को बीच में ही फंसा दिया. इसके कारण जमीन मालिक को काफी नुकसान हुआ.

पुलिस ने बिल्डर प्रवीण कुमार सिंह को गिरफ्तार करने के पहले पूरे मामले की तहकीकात की. आरोप में प्रथमदृष्टया सच्चाई दिखी है. पुलिस का कहना है कि और भी शिकायतें कई थानों में है, जिसे अब खंगाला जा रहा है. निवेशकों ने भी कम्प्लेन कर रखा है. परेशान लोगों को पुलिस से संपर्क करने के लिए कहा जा रहा है.

पटना पुलिस के आला अधिकारियों ने बताया कि फर्जी और संदिग्ध किस्म के बिल्डरों के खिलाफ कार्रवाई फिर से तेज की जायेगी. इधर के दिनों में शिकायतें बहुत बढ़ी हैं. पटना पुलिस को एक खास बिल्डर के बारे में यह भी खबर मिली है कि वह कारोबार समेटकर गायब होने की तैयारी में है. इसके पहले पटना को काफी चूना लगा चुका है. इस बिल्डर की प्रत्येक गतिविधि को पुलिस नोटिस कर रही है.

यह भी पढ़ें :

1 मई से लागू होगा फैसला, लेकिन गिरिराज ने आज खुद हटा दी लाल बत्ती

BSSC घोटाला : NIT पटना के दो पूर्व स्टूडेंट्स गिरफ्तार, अब गुरूजी की तलाश

सुशील मोदी ने अब केंद्रीय मंत्री को लिखी चिट्ठी, मिट्टी-मॉल घोटाले की जांच की मांग

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*