पुलिस प्रशासन का सख्त निर्देश : रामनवमी में फैलाया ‘उन्माद’ तो ‘153’ में जायेंगे अंदर

Police

पटना: राजधानी में रामनवमी की तैयारियां जोरों पर है. पटना जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन ने भी इसके लिए कमर कसना शुरु कर दिया है. रामनवमी के दिन 5 अप्रैल को निकलने वाले जुलूस के लिए पटना शहर की सुरक्षा व्यवस्था पर खासा जोर है. इसी बाबत बुधवार को डीएम संजय अग्रवाल ने प्रशासन और पटना पुलिस के सभी आला अधिकारियों के साथ बैठक की. बैठक में डीएम संजय अग्रवाल ने सीधा कहा कि जुलूस के दौरान अशांति और तनाव पैदा करने वाले तत्वों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी. शांतिपूर्ण रूप से जुलूस निकालने की सबको इजाजत मिलेगी.

सभी चौक-चौराहों पर पुलिस होगी तैनात

डीएम संजय अग्रवाल ने रामनवमी पर्व के अवसर पर विशेष सावधानी बरतने हेतु सभी संवेदनशील स्थलों पर विशेष पुलिस बल को तैनात करने के निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि जुलूस जिस-जिस रास्ते से निकलेगी, उसके हर चौक-चौराहों पर पुलिस बल तैनात रहने चाहिए. जिससे अशांति और उन्माद फैलाने वाले तत्वों को रोका जा सके.

डीएम ने बताया कि पटना जंक्शन, महावीर मंदिर, जेपी गोलम्बर, राजवंशी नगर और सीतामंदिर के आस-पास काफी भीड़ होती है. इसीलिए इन जगहों पर पुलिस के आला अधिकारी भी मुस्तैद रहेंगे. इसके अलावा पटना सिटी में राम जन्म उत्सव के मौके पर शोभा यात्रा भी निकला जाता है. इसीलिए शोभा यात्रा वाले रास्ते पर भी पुलिस बलों की तैनाती रहनी चाहिए. लोगों से भी अपील की गयी है कि भीड़-भाड़ वाले जगहों पर अपने बच्चों के साथ जाने से बचें.

कुछ भी करेंगे गलत तो 151 के तहत जाना होगा जेल

रामनवमी के दौरान असामाजिक तत्वों और उपद्रवियों पर खास नज़र रहेगी. अशांति या तनाव की संभावना पर भी IPC 107/116, 116/151 के अंतर्गत कार्रवाई की जाएगी. किसी भी प्रकार का धार्मिक उन्माद फैलाने वालों पर IPC की धारा 153 के तहत कार्रवाई होगी. किसी भी आकस्मिक घटना से निपटने के लिए सिविल सर्जन,पटना को भी तैयार रहने का निर्देश जारी किया गया है.

यह भी पढ़ें :

3 भाइयों ने मिलकर किये थे 3 मर्डर और लूट लिया था 60 लाख,बैंक मेनेजर भी रडार पर

पटना पुलिस के गले की फांस बनी 5 करोड़ के हीरे की अँगूठी

ठीक से पहचान लें, ये हैं नीरज सिंह के हत्यारे, तलाश है पुलिस को

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*