PU के पीजी काउंसलर कल जाएंगे राजभवन, गवर्नर को बताएंगे अतिथि शिक्षकों की प्रॉब्लम

पीयू के पीजी काउंसलर कल जाएंगे राजभवन

पटना: पटना विश्वविद्यालय छात्र संघ मानविकी काउंसिलर अभिषेक राज ,पी.जी लॉ एडुकेशन एंड कॉमर्स काउंसलर अरविन्द कुमार चौधरी , पी.जी काउंसिलर विवेक कुमार अतिथि शिक्षकों की समस्याओं को लेकर कल 26 सितम्बर को राजभव जाने की तैयारी में हैं . ज्ञात हो कि पटना विश्वविद्यालय शिक्षकों के घोर कमी से जूझ रहा है. सभी व्यावसायिक पाठ्यक्रम और बी.एन कॉलेज के अधिकतर विभाग अतिथि शिक्षकों के दम पर ही संचालित होता है. पटना विश्वविद्यालय में 1952 के बाद कोई भी नया पद सृजन नहीं किया गया है, जबकि नित्य नये पाठ्यक्रम शुरू किये जा रहे हैं. सीटें लगातार बढ़ाई जा रही हैं. ऐसे में छात्रों का भविष्य अधर में है.

पटना विश्वविद्यालय में कार्यरत अतिथि शिक्षकों को 2011 से 300 रूपये प्रति वर्ग दिया जा रहा था जिसे 2 जनवरी 2018 के वित्त समिति की बैठक में बढ़ा कर 500 रूपये प्रतिवर्ग किया था. अब 8 सितम्बर के वित्त समिति की बैठक में पुन: घटा कर 300 रूपये प्रतिवर्ग कर दिया है. ध्यान रहे कि अतिथि शिक्षकों के वेतन के बारे में यूजीसी का स्पष्ट निर्देश है कि अतिथि शिक्षकों को 1000 रूपये प्रति वर्ग दिया जाना चाहिए, ताकि अतिथि शिक्षक बढ़ती महंगाई में बिना मानसिक तनाव के छात्रों को निर्बाध रूप से शिक्षा दे सकें.

पी.जी काउंसिलर विवेक कुमार कहते हैं विश्वविद्यालय यदि अतिथि शिक्षकों को सम्मान जनक वेतन नहीं देता तो हम अतिथि शिक्षकों और छात्रों के साथ मिलकर आंदोलन की दिशा में  बढ़ेंगे. आज हस्ताक्षर अभियान चलाया है, कल अतिथि शिक्षकों का पुन: हस्ताक्षर अभियान चलाकर राजभवन जायेंगे और कुलाधिपति महोदय को वस्तुस्थिति से अवगत करवायेंगे, ताकि अतिथि शिक्षकों को उनके जीविकोपार्जन के लायक मानदेय  दिया जा सके.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*