Call Detail ही पहुंचाएगी रंजय के कातिलों तक

पटना : दो दिसंबर की शाम से लापता व्यवसायी रंजय सिंह का शव पुलिस को दलसिंह राय के समीप एनएच 28 से सोमवार को मिला. समस्तीपुर मे ही पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करा लिया. रंजय की हत्या गला रेत कर की गई थी. लेकिन हत्यारों का सुराग अभी तक पुलिस को नहीं लग पाया है. एसएसपी मनु महाराज के मुताबिक रंजय के कातिलों का पता कॉल डिटेल रिकॉर्ड्स से ही लग पाएगा. इसके लिए उनके सभी नंबरो की सीडीआर पुलिस खंगाल रही है.

रंजय के पास थे तीन मोबाइल, किसपर कॉल करके बुलाया गया था समस्तीपुर

पुलिस के अनुसार रंजय अलग-अलग तीन नंबर अपने पास रखते थे. उन्हें हत्यारों ने फोन करके ही समस्तीपुर बुलाया था. ऐसा उनकी पत्नी नेहा सिंह से पूछताछ में पता चला है. लेकिन, किस नंबर पर फोन करके रंजय को समस्तीपुर बुलाया गया था. इसका पता अभी तक नहीं लग सका है. इसीलिए पुलिस उनके तीनो नंबरों के कॉल डिटेल्स पता कर रही है.

ranjay-singh
मृतक रंजय (फाइल फोटो)

मोबाइल टावर लगाने का काम करते थे संजय

मूल रूप से सिवान जिले के रघुनाथपुर के रहने वाले रंजय सिंह सिनर्जी टेक सॉल्यूशन नाम की कंपनी खोलकर मोबाइल टावर लगाने का काम करते थे. पत्नी नेहा सिंह के मुताबिक टावर लगाने का काम उन्होंने कई दिनों पहले छोड़ दिया था. पुलिस की शुरुआती जांच में ये बात भी सामने आयी है कि टावर लगाने के धंधे में ही रंजय की किसी के साथ दुश्मनी थी. लेकिन पत्नी नेहा इससे इन्कार करती हैं. रंजय का एक पांच साल का बेटा भी है.

पत्नी से फोन पर कहा कि परिचित के साथ जा रहा हूं समस्तीपुर

पत्नी नेहा सिंह ने पुलिस को दिए अपने बयान में कहा है कि रंजय सिंह से उनकी आखिरी बातचीत दो दिसंबर को दोपहर तीन बजे के करीब हुई थी. उन्होंने कहा कि किसी परिचित के साथ समस्तीपुर जा रहे हैं. अगले दिन लौटेंगे. नेहा ने रात को भी रंजय को फोन मिलाया ता. लेकिन फोन बंद मिलाय अगले दिन भर भी फोन रहने पर इसकी शिकायत श्रीकृष्णपुरी थाने में की गई. इसके बाद पुलिस ने खोजबीन शुरू की.

पुलिस की एक टीम गई है दलसिंहसराय भी

पटना पुलिस की एक टीम जांच के लिए दलसिंह राय भी गई है. समस्तीपुर पुलिस से संपर्क कर पोस्टमार्टम रिपोर्ट ले ली गई है. लेकिन पुलिस का कहना है कि हत्यारों का सुराग सीडीआर की रिपोर्ट आने के बाद ही मिल पाएगी.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*