विद्यालयों को नहीं DM का डर, चिलचिलाती गर्मी में भी हो रही पढ़ाई

dm_of_patna_sanjay_agarwal

पटना/फुलवारीशरीफ : पटना के जिलाधिकारी डॉ. संजय कुमार अग्रवाल ने जिले के सभी सरकारी व गैर सरकारी विद्यालयों को 14 मई से बंद रखते हुए गर्मी की छुट्टियां घोषित करने का आदेश जारी किया था. लेकिन राजधानी के सटे फुलवारीशरीफ में प्रशासन के नाक के नीचे एक दर्जन से अधिक निजी विद्यालयों में छुट्टी की घंटी नही बजाई गयी है. राजधानी का पारा 42 पार कर गया लेकिन निजी विद्यालयों के संचालक जिलाधिकारी के आदेश की अवहेलना करते हुए छुट्टी घोषित नहीं कर रहे.

 

जिलाधिकारी द्वारा गर्मी के छुट्टियां घोषित किये जाने के सप्ताह भर बाद भी फुलवारीशरीफ थाने से लेकर पूरे इलाके में एक दर्जन से अधिक विद्यालयों में बच्चो को पढ़ाई करते देखा जा सकता है. ऐसे विद्याल के संचालको को कानून का न तो कोई डर सता रहा है और न ही जुर्माने भरने का कोई गम. माइनॉरिटी से जुड़े स्कूल संचालको को तो यह कहते सुना जा रहा है कि वे गर्मी की छुट्टी की भरपाई रमजान के महीने में कर लेंगे. चिलचिलाती गर्मी में स्कूलों में पढ़ने आने और जाने के दौरान छोटे-छोटे बच्चों को गर्मी का सितम झेलना पड़ रहा है. इस दौरान उमस भरी गर्मी से बच्चे बीमार हो रहे हैं, लेकिन इसकी फ़िक्र न तो किसी विद्यालय को हो रही है और न ही जिम्मेवार अधिकारियों को.

SCHOOL-GOING-KIDS
प्रतीकात्मक फोटो

पटना सदर एसडीओ आलोक कुमार को जब इस ओर ध्यान दिलाया गया तो उन्होंने साफ और स्पष्ट शब्दों में कहा कि जिलाधिकारी के आदेश का अनुपालन कराना स्थानीय प्रशासन की जिम्मेवारी है. एसडीओ ने कहा कि जिलाधिकारी के आदेश का अनुपालन नही करने वालों को क़ानूनी कार्रवाई का सामना करना पड़ेगा. इतना ही नही, हद तो तब हो गयी जब फुलवारीशरीफ में जिलाधिकारी के आदेश का अनुपालन नहीं होने के संबंध में स्थानीय पुलिस प्रशासन से संपर्क किया गया तो जवाब मिला कि उन्हें ऐसी कोई सूचना नही मिली है. ट्रेनी आईपीएस सह फुलवारीशरीफ थानेदार योगेन्द्र कुमार ने बताया कि उन्हें किसी विद्यालय के खुले होने की शिकायत नही मिली है.

फुलवारीशरीफ थाने से चंद कदम की दूरी पर कई निजी विद्यालयों में चलती हुई क्लास को सड़कों पर से ही देखा जा सकता है. ऐसे में सवाल यह उठता है कि आखिर गश्त कर रही पुलिस के अधिकारियों को यह क्यों नहीं दिख रहा है.

अजीत की रिपोर्ट

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*