तो साहू समाज ने इसलिए यशोदा बेन को बुलाया था बिहार…

पटना (नियाज आलम) : बिहार साहू समाज के निमंत्रण पर भामा साह जयंती में शामिल होने अपने तीन दिवसीय बिहार दौरे पर आईं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पत्नी यशोदाबेन सोमवार को गुजरात लौट गईं. लंगर टोली स्थित साहू भवन में विदाई समारोह का आयोजन किया गया. भामा साह जयंती में इस बार सीधे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पत्नी को ही बुलाया गया. इसके पीछे का उद्देश्य अप्रत्यक्ष रूप से बिहार में साहू समाज द्वारा अपनी शक्ति का प्रदर्शन माना जा रहा है.

यशोदा बेन को बुला साहू समाज को गोलबंद करने की कवायद
हालांकि साहू समाज के उपाध्यक्ष धर्मेंद्र साहू ने शक्ति प्रदर्शन की बात से सीधे तौर पर इनकार किया. लेकिन उन्होंने यह माना है कि यशोदा बेन को बुलाकर समाज को गोलबन्द करने की कोशिश की गई. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि बिहार में साहू समाज राजनीतिक तौर पर पिछड़ा है, इसलिए निर्णय लिया गया है कि अब समाज द्वारा प्रत्येक वर्ष आयोजित होने वाले भामा साह जयंती पर राष्ट्रीय स्तर के बड़े नेताओं को बुलाया जाएगा.

बता दें कि इससे पहले भामा साह जयंती के अवसर पर किसी बड़े राजनीतिक नेता को नहीं बुलाया गया है. उन्होंने कहा कि लंबे समय से साहू समाज शोषित और पीड़ित है. कभी भी कोई आरोप लगाकर नेता हो या कार्यकर्ताओं को प्रताड़ित किया जाता है. हम यह लड़ाई पहले से भी लड़ते आ रहे हैं. एक अन्य पदाधिकारी ने बताया कि बिहार में राजनीतिक तौर पर साहू समाज उपेक्षा का शिकार है. उन्होंने कहा कि जब इतनी बड़ी संख्या में वोट हमारा है तो नेता भी हमारा होना चाहिए.

पति की तर्ज पर बोलीं यशोदा बेन – सबका साथ सबका विकास हो
इससे पहले साहू भवन में आयोजित सम्मान समारोह के दौरान यशोदा बेन ने अपने पति और भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नारा सबका साथ सबका विकास को दोहराया. उन्होंने कहा कि पटना में उन्हें इतना सम्मान मिला कि वह इससे काफी खुश हैं. उन्होंने साहू समाज को आगे बढ़ते रहने की भी बात कही.

इस अवसर पर यशोदा बेन को सम्मान स्वरूप साहू समाज की ओर से शाल ओढ़ाया गया तथा साड़ी के अलावा मुंगेर स्थित बड़ी दुर्गा का प्रतीक चिन्ह मोमेंटो के तौर पर भेंट किया गया. कार्यक्रम में साहू समाज के कार्यकारी अध्यक्ष डॉ. प्रेम कुमार गुप्ता, महामंत्री रणविजय साहू, उपाध्यक्ष धर्मेंद्र कुमार, सुनील कुमार, संजय कुमारव संगठन सचिव समेत 20 से ज्यादा जिला अध्यक्ष शामिल रहे.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*