पढ़िये Xiaomi Mi6 की 6 बातें, जो इसे बनाती हैं सभी स्मार्टफोन्स से खास

MI6
लाइव सिटीज डेस्क : कल शाओमी ने अपने फ्लैगशिप डिवाइस मी 6 स्मार्टफोन को लॉन्च कर दिया. बीजिंग में आयोजित एक इवेंट में कंपनी ने शाओमी मी 6 हैंडसेट के फ्लैगशिप फीचर्स के बारे में ही नहीं बताया बल्कि इसके दाम का भी खुलासा किया. 3डी ग्लास डिज़ाइन, पावरफुल स्नैपड्रैगन 835 प्रोसेसर, 6 जीबी रैम और डुअल रियर कैमरा के साथ लॉन्च हुए इस स्मार्टफोन की शुरुआती कीमत 2,499 चीनी युआन यानी कि करीब 23,500 रुपये है. इसमें
6 जीबी रैम और 64 जीबी स्टोरेज से लैस मॉडल को खरीदा जा सकेगा.
फिलहाल चर्चाओं में चल रहे इस स्मार्टफोन की 6 मुख्य खासियतों के बारे में हम आज बात करेंगे.
फोन की लुक एंड फील
शाओमी ने हाल के सालों में अपने हैंडसेट के डिजाइन को लुभावना रखने की कोशिश की है. शाओमी मी 6 के साथ 2017 में भी कंपनी की कोशिश एक बेहतरीन दिखने वाला स्मार्टफोन बनाने की रही है. मी 6 की एक अहम खासियत फोर साइडेड 3डी कर्व्ड ग्लास है.
MI6
फोन ब्लू, ब्लैक और व्हाइट कलर में उपलब्ध है. शाओमी ने बनावट का भी खास ख्याल रखा है. कार्ड स्लॉट और वॉल्यूम बटन बिल्कुल सही जगह पर दिए गए हैं निचले हिस्से में यूएसबी टाइप सी पोर्ट है और कोई 3.5 एमएम हेडफोन जैक नहीं है. शाओमी ने शीशे जैसे इफेक्ट के लिए पिछले हिस्से को साफ-सुथरा रखने की कोशिश की है.
डुअल कैमरा सेटअप टॉप में बायीं तरफ है और कंपनी का ‘Mi’ लोगो निचले हिस्से में है. फोन के किनारे स्टेनलेस स्टील के बने हैं. इसके अलावा एक सेरामिक वेरिएंट को भी पेश किया गया है.
प्रोसेसर 
अन्य फ्लैगशिप स्मार्टफोन की तरह शाओमी मी 6 में भी पावरफुल प्रोसेसर का इस्तेमाल हुआ है. यह लेटेस्ट क्वलाकॉम स्नैपड्रैगन 835 प्रोसेसर से लैस है. इसके साथ मौज़ूद है 6 जीबी रैम. इतनी रैम किसी भी काम के लिए काफी है. इस हैंडसेट का प्रोसेसर स्नैपड्रैगन 820 की तुलना में 20 फीसदी कम पावर की खपत करता है. इसका मतलब है कि आप बेहतर बैटरी लाइफ की उम्मीद कर सकते हैं.
कैमरा सेटअप
शाओमी मी 6 के बारे में कहा जा रहा है कि यह डुअल कैमरे के साथ आने वाला पहला 5.15 इंच स्क्रीन वाला फोन है. इसके रियर हिस्से पर 12 मेगापिक्सल के दो सेंसर हैं. एक सेंसर वाइड एंगल के लिए और दूसरा टेलीफोटो के लिए. इन सेंसर की मदद से आप 10x डिजिटल जूम में भी ज़्यादा स्पष्ट और डिटेल के साथ तस्वीरें खींच पाएंगे.
रियर सेटअप में 4-एक्सिस ऑप्टिकल इमेज स्टेबलाइजेशन भी दिया गया है, यानी हाथ हिल जाने के कारण फोटो खराब होनी की चिंता भी दूर हो जाएगी. मज़ेदार बात यह है कि डुअल कैमरा सेटअप से आप. बेहतर डेप्थ ऑफ फील्ड वाली तस्वीर की भी उम्मीद कर सकते हैं.
फिंगरप्रिंट सेंसर
शाओमी ने एक बार फिर फिंगरप्रिंट सेंसर को डिस्प्ले के नीचे रखना ज़्यादा बेहतर माना है. ऐसा हमें शाओमी मी 5एस में भी देखने को मिला था. इसके लिए कंपनी अल्ट्रासॉनिक टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करती है. कंपनी का कहना है कि डिस्प्ले के नीचे फिंगरप्रिंट सेंसर रहने से इसके खराब होने की संभावना कम हो जाएगी.
नया और बेहतर ब्लूटूथ 5.0 
ब्लूटूथ 5.0 अगले जेनरेशन की ब्लूटूथ तकनीक है. सैमसंग गैलेक्सी एस8 के बाद शाओमी मी 6 इस फ़ीचर के साथ आने वाला दूसरा फोन है. शाओमी ने भले ही लॉन्च इवेंट में इस फ़ीचर के बारे में बहुत कुछ नहीं कहा है कि लेकिन यह टेक्नोलॉजी पिछले जेनरेशन की ब्लूटूथ तकनीक से बहुत बेहतर है. ब्लूटूथ 5.0 में आपको चार गुना ज़्यादा रेंज मिलेगा. दोगुने स्पीड के अलावा ब्रॉडकास्टिंग क्षमता आठ गुनी हो जाएगी. गौर करने वाली बात है कि नए तकनीक की मदद से फोन को एक साथ दो स्पीकर से भी कनेक्ट किया जा सकता है.
स्टीरियो स्पीकर
स्पीकर की बात छिड़ी है तो बता दें शाओमी मी 6 में डुअल स्पीकर सिस्टम दिया गया है. लॉन्च इवेंट में कंपनी ने दावा किया कि टॉप और निचले हिस्से पर मौज़ूद डुअल स्पीकर स्टीरियो इफेक्ट देने में कामयाब होंगे. डुअल स्पीकर के बारे में गाना सुनते, वीडियो देखते या गेम खेलते वक्त सराउंड साउंड अनुभव देने का दावा किया गया है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*