कोचिंग संस्थान 31 तक कराएं रजिस्ट्रेशन, नहीं तो होगी कार्रवाई

पटना : कोचिंग संस्थानों को रजिस्ट्रेशन की अनिवार्यता के राज्य सरकार के आदेश के बाद इसके लिए पहल तेज हो गयी है. जिला शिक्षा कार्यालय की ओर से संस्थानों को 31 दिसंबर तक सारे प्रपत्र जमा करा कर रजिस्ट्रेशन कराने का निर्देश दिया जा चुका है.

निर्देश में रजिस्ट्रेशन की निर्धारित तिथि के बाद संचालित होने वाले गैर-निबंधित कोचिंग संस्थानों के खिलाफ सख्त कार्रवाई किए जाने की बात कही गई है. डीईओ सत्यनारायण प्रसाद ने इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि निबंधन के लिए जिला शिक्षा कार्यालय की ओर से 15 नियम तय किये गए हैं.
कोचिंग संचालक की शैक्षिक योग्यता के अनुसार संचालक के लिए न्यूनतम स्नातक होना जरूरी है. साथ ही संचालक गैर-सरकारी शिक्षक होना चाहिए या फिर सेवानिवृत शिक्षक होने की स्थिति में हीं उक्त संस्थान का निबंधन हो सकेगा. इसी तरह शिक्षण शुल्क के साथ प्रोस्पेक्टस निर्गत करना,एक अध्यनार्थी के लिए एक वर्ग मीटर स्थान कक्षा में होना, समुचित उपस्कर, विद्युतीकरण, पेयजल की सुविधा, शौचालय की सुविधा, जल निकासी एवं स्वच्छता का प्रबंध, अग्निशामन की व्यवस्था, इमरजेन्सी चिकित्सा की सुविधा, पार्किंग की सुविधा सहित अन्य व्यवस्थाओं के रहने पर ही कोचिंग का रजिस्ट्रेशन पूरा हो पायेगा.

इसके अलावा डीईओ माध्यमिक शिक्षा के हवाले से मिली जानकारी के अनुसार रजिस्ट्रेशन अवधि तीन वर्ष की ही होगी. संस्थान को डीईओ के पदनाम से पांच हजार का बैंक ड्राफ्ट भी देना होगा. निबंधन की अवधि समाप्त होने के बाद उसके नवीकरण के लिए तीन हजार के शुल्क के साथ आवेदन देना होगा. डीएम, एसडीओ और जिले के अन्य समकक्ष अधिकारियों के द्वारा संस्थानों के क्रिया-कलाप की जांच भी समय-समय पर होगी.

About Abhishek Anand 140 Articles
Abhishek Anand

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*