फुलवारी में लगातार छापेमारी ने शराब कारोबारियों की तोड़ी कमर

पटना/फुलवारी शरीफ : फुलवारीशरीफ में पुलिस की लगातार छापेमारी ने अवैध शराब कारोबारियों की कमर तोड़ कर रख दी है. पहले जहाँ शाम ढलते ही शराब की महफिले सजती थी वहां अब सुकून के पल बिताते लोगों को देख किसी को यकीन नही होता कि यह वही शराब के अड्डे हैं. अवैध शराब निर्माण और बिक्री के लिए विख्यात गोविन्दपुर, नोनोया टोली, नवादा, धुपारचक, कुरकुरी, लहियारचक, गोंनपुरा, हिन्दुनी आदि दर्जनों शराब के अड्डों पर अब शराबियो का जमावड़ा नही लगता है.

पहले इन इलाकों में अहले सुबह से आधी रात तक शराब पीने पिलाने का दौर बदस्तूर चलता रहता था. आज आलम यह है कि स्थानीय पुलिस अधिकारियों द्वारा की गई दिन रात ताबड़तोड़ छापेमारी अभियान से देशी दारु निर्माण और बिक्री के कारोबार पर लगभग लगाम लगाने में सफल हुए हैं. इतना ही नहीं लगातार छापेमारी अभियान में दर्जनों महिला और पुरुषो को पुलिस ने गिरफ्तार करके जेल भेज दिया.

ban-liquor-dna_0

पहले शराब के अड्डे पर छापेमारी होने की भनक मिलते ही कारोबारी फरार हो जाते थे. पुलिस केवल शराब के अड्डे ध्वस्त कर लौट आती थी और शराब कारोबारी दोबारा जमीन में गाड़े गये शराब को निकाल दोबारा महफिल सजा देते थे. फुलवारी शरीफ में दो-दो थानेदारों को दस-दस साल के लिए थानेदारी से वंचित किये जाने के कड़े फैसलों से सहमे पुलिस पदाधिकारियों ने शराब के कारोबार को पूरी तरह बंद करने के लिए कमर कस लिया था. ट्रेनी आईपीएस सह थानेदार योगेन्द्र कुमार ने बताया कि शराब के कारोबार के खिलाफ पुलिस का अभियान लगातार चलता रहेगा.

बुधवार को भी हुई गिरफ्तारी

फुलवारी शरीफ पुलिस ने शराब के विरुद्ध लगातार चलाए जा रहे अभियान के तहत एक महिला समेत तीन लोगों को शराब के साथ पकड़ा है. थानेदार सह ट्रेनी आईपीएस योगेन्द्र कुमार ने बताया कि पुलिस ने धुपारचक से मल्लू और लख पर इलाके से एक महिला और उसके भतीजे राजा को शराब बेचने के आरोप में गिरफ्तार किया है. पुलिस ने इनके पास से 20 लीटर शराब बरामद किया है.

उधर दूसरी तरफ जानीपुर थाना पुलिस ने चार पियक्कड़ो को गिरफ्तार किया है. जानीपुर थानेदार मोहन प्रसाद ने बताया कि पुलिस ने वाहन गश्ती के दौरान चार युवको को गिरफ्तार किया है जिनकी जाँच में अल्कोहन का सेवन पाया गया है. उन्होंने बताया कि गिरफ्तार लोगों में राजेश कुमार पिता शशि भूषण प्रसाद ग्राम- उफरपूरा धनौत , नीरज कुमार पिता दिलीप कुमार ग्राम-बाबु चक , राजकुमार उर्फ़ प्रदीप पिता परिक्षण यादव ग्राम-उफरपूरा धनौत , सुदेश्वर कुमार पिता मुनारिक राय  ग्राम बाबु चक शामिल हैं. पुलिस ने सभी पियक्कड़ो को जेल भेज दिया है.

अजीत की रिपोर्ट

इसे भी पढ़ें –

नहीं मान रहे हैं धंधेबाज, बुधवार को 67 गिरफ्तार, सैकड़ों लीटर शराब भी जब्त

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*