गेठरी में लगा चोर : बेटी की शादी के लिए जमा किये 1 लाख, आ गया इनकम टैक्स का नोटिस

पटना. सच्चा कलाकार हमेशा ही अपनी कला के माध्यम से लोगों की समस्याओं को उठाते रहते हैं. आजकल राजधानी के कलाकार भी ऐसा ही कुछ नुक्कड़ नाटकों के माध्यम से कर रहे हैं. अपने नाटकों से ये लोग आजकल नोट बंदी के बाद जनता को हो रही परेशानियों को दिखाने की कोशिश कर रहे हैं.

इस क्रम में शनिवार को पटना के खगौल रेलवे स्‍टेशन परिसर में ‘सदा’ ने अपने नुक्कड़ नाटकों की कड़ी में ‘गेठरी में लगा चोर’ नाटक का मंचन किया. इस नाटक में कलाकारों ने लोगों को नोट बंदी के बाद परेशान किसान और गरीब बेटी के बाप का दर्द बयां किया.  इस नाटक के माध्यम से कैंसर पीड़ितों का भी दर्द लोगों के सामने रखा गया.

khagaul1

नाटक में गांव के एक गरीब की कहानी है जो अपनी बेटी की शादी करना चाह रहा है मगर नोट बंदी की वजह से कर नहीं पा रहा. उसकी परेशानी तब और बढ़ जाती है जब एक दिन उसे आयकर विभाग द्वारा अंग्रेजी में लिखा एक नोटिस भेजा जाता है जिसमें उसके द्वारा खाते में जमा किये गए एक लाख रुपयों के बारे में जानकारी मांगी जाती है.

khagaul2

नोट बंदी से कैसे एक गरीब किसान की पूंजी पर आफत आ गयी है, कभी वह अपने पास के हजार के नोट को देखता है कभी अपनी बेटी को. इसी उहापोह को दर्शाती इस नाटक को देखने वालों ने भरपूर सराहना की. नाटक में भाग लेने वाले कलाकार थे शोएब कुरैशी, प्रेम राज, कबिर श्रीवास्‍तव, रामनाथ और मनोज कुमार इत्यादि.

यह भी पढ़ें :

नुक्कड़ नाटकों में भी दिख रहा #NoteBan का दर्द

नाटक में दिखा बाढ़ पीड़ितों का दर्द

ओए होए राजा जानी, बदल गई जिंदगानी

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*