‘मिट्टी घोटाले से जुड़े दस्तावेजों में की जा रही छेड़छाड़’

sushil-modi

पटना : भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने हाल में सामने आये ‘मिट्टी घोटाले’ की सर्वदलीय समिति से जांच कराने की मांग की है. मामले को लेकर उन्होंने राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद पर भी बड़ा हमला किया है. उन्होंने आरोप लगाया है कि बैंक डेट में दस्तावेजों को छेड़छाड़ कर दुरूस्त किया जा रहा है. सुशील मोदी ने मांग की है कि सरकार मिट्टी घोटाले से जुड़े तमाम दस्तावेजों को तत्काल जब्त कर सील करे. उन्होंने शाॅपिंग माॅल और जैविक उद्यान की मिट्टी की भी जांच की मांग की ताकि यह पता चल सके कि कहां की मिट्टी है.

सुशील मोदी ने लालू प्रसाद पर हमला करते हुए कहा कि उनके राज में चारा, अलकतरा, दवा सहित दर्जनों घोटालों की शुरूआत में वो कहते रहे कि कुछ नहीं हुआ है. मगर जब उन घोटालों की जांच हुई तो स्वयं लालू प्रसाद, इलियास हुसैन सहित उनके मंत्रिमंडल के दर्जनों मंत्रियों को जेल जाना पड़ा था. उसी प्रकार मिट्टी घोटाले से भी लालू यादव इनकार कर रहे हैं.

फाइल फोटो

भाजपा नेता ने बुधवार को एकबार फिर दोहराया कि वो अपनी बात पर पूरी तरह से कायम हैं कि लालू परिवार से जुड़े शाॅपिंग माॅल, जिसका निर्माण राजद के विधायक द्वारा कराया जा रहा है, उसकी मिट्टी को खपाने के लिए बिना किसी आवश्यकता, बिना टेंडर, राजद से जुड़े नेता को 90 लाख में दे दिया गया ताकि राजद के मंत्री के विभाग में मिट्टी की आपूर्ति की जा सके. जब लालू प्रसाद किसी भी जांच के लिए तैयार है तो मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को अविलम्ब सर्वदलीय समिति बना कर इस मामले की जांच करानी चाहिए.

सरकार बताये कि अगर टेंडर हुआ तो कब और किन-किन अखबारों में विज्ञापन प्रकाशित हुआ और कौन-कौन सी कम्पनियां टेंडर में भाग ली. किन-किन लोगों की कमिटी थी जिसने टेंडर को स्वीकृति दी. टेंडर के मामले में लालू प्रसाद का बयान सफेद झूठ है. सरकार को एक बार फिर मेरी चुनौती है कि वह मेरे द्वारा उठाई गई सभी बिन्दुओं की सर्वदलीय समिति बना कर जांच करायें.

यह भी पढ़ें :

मोदी बोले – मुक़दमे से नहीं डरता, आधा दर्जन लड़ रहे हैं, बयान पर कायम हूं

‘सुशील मोदी का दिमाग हो गया खराब,कोर्ट में कर देंगे ठीक’

लालू बोले – फ्री में गोबर देता हूं जू को, मिट्टी क्यों बेचेंगे, हो जाए जांच

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*