अब रेलवे टिकट काउंटरों पर होगी स्वाइपिंग मशीन

पटना : नोटबंदी के बाद यात्रियों की समस्या को देखते हुए और डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने के लिए रेलवे ने सभी टिकट काउंटरों पर स्वाइपिंग मशीन लगाने का फैसला किया है. स्वाइपिंग मशीन पहले तो देश भर के बड़े रेलवे स्टेशनों पर लगेंगे, उसके बाद अन्य स्टेशनों के टिकट काउंटर पर भी स्वाइपिंग मशीन लगा दिये जाएंगे. पटना रेलवे स्टेशन पर 31 दिसंबर के पहले तक स्वाइपिंग मशीन लगा दिया जाएगा. जिससे यात्री टिकट का किराया देने के लिए कैश पर निर्भर नहीं रहेंगे.

रेलवे ने कराया है सर्वे, रिजर्वेशन कराने वाले केवल 58 फीसदी लोग ही करते हैं आनलाइन बुकिंग

रेलवे बोर्ड के अधिकारियों ने यात्रियों की समस्या को देखते हुए एक सर्वे कराया है. जिसके अनुसार देश भर में रोजाना 2.23 करोड़ लोग रेल से सफर करते हैं. इनमें केवल १० लाख लोग ही ऐसे हैं जो ई-पेमेंट से अपना टिकट बनवाते हैं. बाकी लोग कैश देकर टिकट लेने पर निर्भर हैं. उन्हीं की समस्याओं को देखते हुए रेलवे ने टिकट काउंटरों पर स्वाइपिंग मशीन लगाने का फैसला किया है, जिससे यात्री कैश नहीं रहने पर अपने डेबिट या क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल कर टिकट करा सकते हैं. स्वाईपिंग मशीन आरक्षित टिकट काउंटरों के अलावा अनारक्षित टिकट काउंटरों पर भी लगाए जाएंगे. क्योंकि, अनारक्षित टिकटों के लिए ई-पेमेंट की कोई सुविधा नहीं है.

होगी खुदरा की समस्या खत्म

यात्रियों और बुकिंग क्लर्क को सबसे अधिक परेशानी छोटे टिकट के पैसे काटने में खुदरा को लेकर होती है. कई बार बुकिंग क्लर्क खुदरा लेकर आने पर टिकट देने को कहते हुए यात्रियों को लौटा देते हैं. लेकिन स्वाइपिंग मशीनों के आ जाने से ये समस्या खत्म हो जाएगी. आप अपने डेबिट या क्रेडिट कार्ड से टिकट के किराए को पे कर सकते हैं.

लाइव सिटीज ने दिखाया था रेल टिकट काउंटर पर लोगों की परेशानी

नोटबंदी के बाद रेलवे टिकट काउंटरों पर आम लोगों को हो रही परेशानी को लाइव सिटीज की टीम ने आपको दिखाया था. कुछ लोगों को बुकिंग क्लर्क सिर्फ इसीलिए लौटा दिए थे, क्योंकि उनके पास खुदरा पैसे नहीं थे. इस बात से नाराज होकर एक यात्री ने यहां तक कह दिया था कि सब जगह पेटीएम लगाने की बात करते हैं, यहां भी लगा दीजिए. हमारी समस्या खत्म हो जाएगी. सबसे अधिक दिक्कत अनारक्षित टिकट कटाने वालों को होती है.

About Abhishek Anand 140 Articles
Abhishek Anand

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*