पेरिस में हमलावर की गोली से एक पुलिस अधिकारी की मौत, आईएस ने ली जिम्मेवारी

लाइव सिटीज डेस्क: आतंकवाद की आग में पूरा विश्व झुलस रहा है. फ्रांस की राजधानी एक बार फिर से आतंकियों का निशाना बना है. कल यानि गुरूवार की रात फ्रांस की राजधानी पेरिस में पुलिस अधिकारियों को गोलीबारी का निशाना बनाया गया जिसमें एक अधिकारी को जान से हाथ धोना पड़ा जबकि दो अधिकारी अभी भी जिंदगी और मौत की लड़ाई लड़ रहे हैं.

पुलिस ने भी आतंकियों पर जवाबी गोलीबारी की जिसमें एक संदिग्ध हत्यारा की मौत हो गई, जबकि अन्य मौका ए वारदात फरार होने में कामयाब रहे. बाकी संदिग्धों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस संदिग्ध ठिकानों पर लगातार छापेमारी कर रही है और घटना से संबंधित महत्वपूर्ण सुराग तलाशने में जुटी हुई है. अमाक न्यूज एजेंसी की खबरों के मुताबिक, आंतकी संगठन इस्लामिक स्टेट ने इस घटना के हमलावर को अपने संगठन का बताया है और इस आतंकी कार्रवाई की जिम्मेवारी स्वीकार कर ली है. यहां यह बताना जरूरी है कि आगामी 23 अप्रैल, रविवार को फ्रांस में राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव होने हैं. फ्रांसीसी राष्ट्रपति फ्रेंक्वा ओलांदे ने इसे आतंकी गतिविधि करार दिया है.

इस बीच प्रॉसिक्यूटर ने आतंकी हमले में संलिप्त संदिग्ध की पहचान कर लिए जाने की पुष्टि की है. इस हमले में कितने लोग शामिल थे, इस बारे में अभी कुछ स्पष्ट नहीं कहा जा रहा है. रॉयटर्स ने घटना के एक चश्मदीद के हवाले से इस घटना में दो लोगों के शामिल होने की बात कही है. बताया जाता है कि हमलावर गाड़ी से निकले और पुलिस को निशाना बनाते हुए आॅटोमेटिक मशीनगन से बेतहाशा गोलियां बरसानी शुरू कर दीं जिससे एक पुलिस अधिकारी की मौत हो गई और दो अन्य जख्मी हो गए.

इधर, पेरिस में हुए इस आतंकी हमले की पूरे विश्व में निंदा की जा रही है और दुनिया भर के राष्ट्र प्रमुख ने इसके खिलाफ बयान जारी किया है. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भी इसे संदिग्ध आतंकी हमला बताया है. बताते चले कि दो वर्ष पूर्व 2015 में फ्रांस में बड़ा आतंकी हमला हुआ था जिसमें 200 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी. उस घटना के बाद से ही फ्रांस में आपातकाल है. इस बीच एक महत्वपूर्ण बात यह है पेरिस में हुए ताजातरीन हमले के बाद राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार फीलन ने अपना चुनाव प्रचार रोक दिया है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*