नरेन्‍द्र मोदी-राहुल गांधी की सिक्‍योरिटी अब भी बिहार के IPS तय करेंगे

नई दिल्‍ली : मामला संवेदनशील और वीवीआईपी सिक्‍योरिटी का हो, तो केन्‍द्र सरकार सबसे सीनियोरिटी में सबसे मजबूत और काबिल आफिसर को ही सेलेक्‍ट करती है. ऐसे में फिर से बाजी बिहार के हाथ गई है. बिहार काडर के आईपीएस अधिकारी को ही एसपीजी का नया चीफ बनाया गया है.

स्‍पेशल प्रोटेक्‍शन ग्रुप मतलब एसपीजी के जिम्‍मे ही प्रधान मंत्री नरेन्‍द्र मोदी, कांग्रेस प्रेसीडेंट सोनिया गांधी, वाइस प्रेसीडेंट राहुल गांधी समेत देश के सभी पूर्व राष्‍ट्रपति और प्रधान मंत्री की सुरक्षा की जिम्‍म्‍ेवारी होती है. एसपीजी का सुरक्षा घेरा सोनिया गांधी की बेटी प्रियंका गांधी को भी मिला हुआ है.

एसपीजी का सुरक्षा घेरा कितना तगड़ा होता है, अनुमान बस इससे लगाइए कि अभी पिछले ही महीने पटना एयरपोर्ट पर प्रधान मंत्री नरेन्‍द्र मोदी से मिलने जा रहे बिहार के मुख्‍य मंत्री नीतीश कुमार की कार रोक दी गई थी. कारण यह कि जिस कार में नीतीश कुमार सवार थे, उसके लिए एसपीजी से इंट्री की अनुमति नहीं प्राप्‍त की गई थी.

एसपीजी को अभी आईपीएस अधिकारी एआरके किन्‍नी संभालते हैं, जो 30 नवंबर को रिटायर हो रहे हैं. इस बाबत नये एसपीजी चीफ का सेलेक्‍शन अभी कर लिया गया है. भारत सरकार के नियुक्ति मामलों की कमेटी से क्लियरेंस मिलने के बाद DOPT  ने बिहार काडर के 1983 बैच के आईपीएस अधिकारी एस के सिन्‍हा को कैबिनेट सेक्रेटेरिएट का सेक्रेट्री (सिक्‍योरिटी) नियुक्‍त किये जाने की अधिसूचना जारी कर दी है. वे एआरके किन्‍नी के रिटायरमेंट के बाद 1 दिसंबर को अपनी ड्यूटी संभालेंगे.

एस के सिन्‍हा अभी इंटेलीजेंस ब्‍यूरो में स्‍पेशल डायरेक्‍टर के पद पर तैनात हैं. आईबी में रहते हुए उन्‍हें देश की सभी प्रकार की खुफिया सूचनाएं प्राप्‍त होती रही है. इस एक्‍सपीरिएंस का लाभ भी उन्‍हें नये प्रभार में मिलेगा. कैबिनेट सेक्रेटेरिएट के सेक्रेट्री (सिक्‍योरिटी) के पास एसपीजी चीफ के अलावा और भी कई प्रकार की महत्‍वपूर्ण जिम्‍मेवारियां होती हैं.

देश भर में राज्‍य सरकारें अथवा दूसरी सिक्‍योरिटी एजेंसियां किसी भी प्रकार का जैमर सुरक्षा कारणों से लगाना चाहती है, तो इस बाबत एप्रूवल भी एसपीजी के चीफ से ही प्राप्‍त करना होता है. ठीक इसी तरीके से जिन्‍हें एसपीजी की सुरक्षा प्राप्‍त है, वे विदेश दौरे पर जाते हैं, तब भी हिफाजत का जिम्‍मा एसपीजी के पास ही होता है.

About Abhishek Anand 120 Articles
Abhishek Anand

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*