#BrandBihar : पूर्व IB प्रमुख दिनेश्वर शर्मा को बड़ी जिम्मेदारी, असम के उग्रवादियों से करेंगे बातचीत

dineshwar-sharma

पटना/गया : पूर्व आईबी प्रमुख दिनेश्वर शर्मा को असम के उग्रवादी समूहों के साथ शांतिवार्ता के लिए वार्ताकार के रूप में कार्यभार दिया गया है. दिनेश्वर शर्मा की इस पद पर नियुक्ति एक साल के कार्यकाल के लिए की गई है.

studio11

केंद्र सरकार और पूर्वोत्तर के उग्रवादी समूहों के बीच वार्ताकार के रूप में मध्यस्थता की भूमिका निभाने के क्रम में यूनाइटेड लिबरेशन फ्रंट ऑफ असम (उल्फा) उनके सामने विशेष चुनौती रहेगी. एक समय पूर्वोत्तर के सबसे खतरनाक उग्रवादी गुट रहे उल्फा की ताकत कमजोर पड़ चुकी है, लेकिन हाल के दिनों में उल्फा(परेश बरुवा गुट) ने असम में खतरनाक ढंग से अपनी उपस्थिति दर्ज की है.

dineshwar-sharma

दिनेश्वर शर्मा 1976 बैच केरल कैडर के आईपीएस अधिकारी हैं. आईबी में पिछले 25 सालों से काम करने का अनुभव रखने वाले शर्मा वर्ष 2014 में दो साल के लिए आईबी निदेशक बने. वे 31 दिसंबर 2016 को आईबी के निदेशक के रूप में सेवानिवृत्त हो गए. हाल ही में उन्हें असम के उग्रवादी समूहों के साथ शांतिवार्ता के लिए वार्ताकार के रूप में चुना गया है.

आम तौर पर सुर्ख़ियों से दूर रहने वाले दिनेश्वर शर्मा आईबी में रहते हुए संस्था के महत्वपूर्ण काउंटर सर्विलांस विभाग के प्रमुख रहे और इस पद पर रहते हुए उन्होंने एजेंसी के कई अभियानों को सफलता दिलाई. वर्ष 1991 में आईबी में पदस्थापित होने के बाद उन्होंने देश के विभिन्न हिस्सों में अपने अभियानों को सफल बनाया, जिसमें कश्मीर से लेकर पूर्वोत्तर के राज्य तक शामिल रहे हैं. शर्मा ने आतंकी संगठनों आईएस, अलकायदा और इंडियन मुजाहिदीन से निपटने में अहम भूमिका निभाई. शर्मा को यह पद मिलने के बाद उनके पैतृक गाँव गया जिला के बेलागंज थानाक्षेत्र के पाली गांव में हर्ष का माहौल है.

गया से प्रभात मिश्रा की रिपोर्ट

About Anjani Pandey 863 Articles
I write on Politics, Crime and everything else.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*