गंगवार की पोस्टिंग, कई मंत्रियों के प्राइवेट सेक्रेट्रीज हटाए जाएंगे

नई दिल्‍ली: सेंट्रल गवर्नमेंट के पावर कॉरीडोर से कई सूचनाएं हैं . बिहार से भी जुड़ा बहुत कुछ है . केन्‍द्र ने 1988 बैच के बिहार काडर के आईएएस धर्मेन्‍द्र सिंह गंगवार की पोस्टिंग कर दी है . चर्चा यह भी है कि केन्‍द्र सरकार बिहार के होम सेक्रेट्री आमिर सुबहानी को दिल्‍ली बुलाना चाहती है . इधर,प्रधान मंत्री कार्यालय के निर्देश पर तय नियमों के हिसाब से कई केन्‍द्रीय मंत्रियों को अपने प्राइवेट सेक्रेट्री को बदलना पड़ रहा है.

studio11

पावर कॉरीडोर से मिली जानकारी के मुताबिक धर्मेन्‍द्र सिंह गंगवार को केन्‍द्र के फूड प्रोसेसिंग मंत्रालय में जॉंइंट सेक्रेट्री के पद पर तैनात किया गया है. पांच वर्षों की केन्‍द्रीय प्रतिनियुक्ति योगदान की तिथि से प्रभावी होगी. गंगवार बिहार में कई महत्‍वपूर्ण पदों पर रहे हैं. बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार और जीतन राम मांझी के साथ भी रहे हैं.
जानकारी यह है कि केन्‍द्र सरकार बिहार के होम सेक्रेट्री आमिर सुबहानी को सेंट्रल डेपुटेशन पर लेना चाहती है. बिहार को बताया गया है पर सुबहानी का दिल्‍ली आना इससे तय होगा कि बिहार सरकार उन्‍हें विरमित करने को तैयार है कि नहीं? आमिर सुबहानी को बिहार में नीतीश कुमार का बेहद भरोसेमंद अधिकारी माना जाता है.

इस बीच केन्‍द्र की सबसे बड़ी खबर यह है कि प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के निर्देश पर डीओपीटी ने जो नियम बनाये हैं, उसके हिसाब से कई मंत्रियों को अपने प्राइवेट सेक्रेट्री बदलने पड़ रहे हैं . दरअसल, यह नियम बना दिया गया है कि कोई भी अधिकारी अपने पूरे सेवाकाल में पांच वर्षों से अधिक समय तक मंत्री का पीएस नहीं रह सकता है. पीएस/ओएसडी आईएएस-आईपीएस-आईआरएस अधिकारी बनाये जाते हैं. इस नियम के बाद होम मिनिस्‍टर राजनाथ सिंह,फाइनांस मिनिस्‍टर अरुण जेटली और लॉ व आईटी मिनिस्‍टर रविशंकर प्रसाद को अपने प्राइवेट सेक्रेट्री बदलने पड़ रहे हैं. और भी कई मंत्रियों के बदलेंगे .

अरुण जेटली ने तो नये प्राइवेट सेक्रेट्री की नियुक्ति भी कर ली है.