नवरात्रि : पटना का मनोकामना मंदिर, जहां 106 साल से जल रही है पवित्र ज्योति

लाइव सिटीज डेस्क: पूरे देश में नवरात्रि की धूम है. हर जगह मंदिर में माँ दुर्गा के विभिन्न रूपों की पूजा हो रही है. पटना में भी माता के कई मंदिर हैं, जहाँ भक्त पहुंच रहे हैं. पटना के गोलघर के पास प्राचीन अखंडवासिनी मंदिर है. यह मंदिर राजधानी के लोगों की श्रद्धा का बड़ा केंद्र है. कहा जाता है कि इस मंदिर में 106 साल से दीया लगातार जल रहा है. मान्यता है कि यहां सच्चे मन से मांगी गई मुराद पूरी होती है.

भक्त चढ़ाते खड़ी हल्दी व फूल

मंदिर की स्थापना 150 साल पहले की गई थी. जानकारी के अनुसार, अंग्रेजों के आतंक से बचने के लिए इस मंदिर को बनाया गया था. इस मंदिर को मनोकामना मंदिर के नाम से भी जाना जाता है. यहां भक्त मां को खड़ी हल्दी और फूल चढ़ाते हैं. जिनकी भी मन्नत पूरी होती है, वो अपनी सुविधानुसार घी और तेल का दीया जलाते हैं.

लगातार जल रहे घी व तेल के दो दीये

मंदिर की सबसे बड़ी विशेषता यहां जल रहा अखंड दीपक है. मंदिर में घी व तेल के दो दीये लगातार जल रहे हैं. माना जाता है कि मंदिर में ये दीये 106 साल से जल रहे हैं. जिनकी भी मनोकामना पूर्ण होती है, वह दीया जलाते हैं. नवरात्र के मौके पर भी घी या तेल के नौ दीपक जलाने की परंपरा है.

नवरात्र में उमड़ती भीड़

मंदिर के पुजारी विकास तिवारी कहते हैं कि यहां 106 साल पहले से पूजा हो रही है. नवरात्र के मौके पर मंदिर में विशेष भीड़ होती है. लोग अपनी मनोकामना लेकर उनके पास आते हैं.

यह भी पढ़ें- नवरात्रि में डांडिया की मखमली रात 14 को सजेगी पटना के मौर्या में, पटनाइट्स रहें तैयार

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*