सतुआनी स्पेशल: इस दिन गंगा में स्नान करने का होता है विशेष महत्व…

बैसाखी त्यौहार, सतुआनी, गंगा स्नान, धर्म अध्यात्म, न्यूज़, डिजिटल न्यूज़, digital news, hindi news, bihar festival, hindu festival, importance, ganga bath

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: सत्तू फेस्टिवल यानि सतुआनी मनाया जाता है. सतुआनी सूर्य के मीन से मेष राशि में प्रवेश करने के मौके पर बिहार और झारखंड में यह पर्व मनाया जाता है. इस दिन से हिन्दू कैलेंडर में गर्मी की शुरुआत भी मानी जाती है. पंडित नागेश्वर पांडेय के मुताबिक शनिवार को सूर्य मीन से मेष राशि में प्रवेश करेगा और इसी दिन सतुआनी लोग सतुआनी मनाएंगे.

बता दें कि सतुआनी का त्यौहार हर जगह बहुत धूमधाम से मनाया जाता है. इस दिन खड़मास की समाप्ति होती है साथ ही शादी विवाह के लिए रास्ते खुल जाते हैं. साथ ही इस दिन गंगा स्नान करने का अलग ही महत्व है.

यह भी पढ़ें:

क्या आप जानते हैं हनुमानजी को क्यों चढ़ाते हैं सिंदूर? इसी से मिला था हनुमान जी को अमरत्व

लाखों श्रद्धालु करेंगे गंगा स्नान

शनिवार सुबह श्रद्धालु गंगा स्नान कर मंदिर में पूजा अर्चना करेंगे. सतुनानी के दिन गंगा स्नान का विशेष महत्व होता है. इस मौके पर हजारों लोग पवित्र नदियों में आस्था की डुबकी लगाते हैं. इसके बाद पूजा अर्चना कर लोग सत्तू, गुड़ और कच्चे आम को प्रसाद के रूप में ग्रहण करेंगे.

शुरू हो जाएंगे मांगलिक कार्य
सूर्य का उच्च राशि में प्रवेश के बाद खरमास की समाप्ति हो जाती है. इसी दिन से सभी मांगलिक कार्य शुरू हो जाएंगे हैं. पंडितों ने बताया कि सूर्य का मीन से मेष राशि में प्रवेश होना काफी उच्च माना गया है. दूसरे महीनों की अपेक्षा सूर्य ज्यादा प्रभावशाली होता है. सूर्य का उच्च राशि में प्रवेश शुभ फलदायी है.

देखें वीडियो:

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*