राशि के अनुसार शिव की पूजा अर्चना करने का है यह लाभ …

shiv

लाइव सिटीज डेस्क : सावन में शिव जागृत हो जाते हैं एवं भक्तों के मनोकामनाओं को पूर्ण करते हैं. सावन महीने के प्रत्येक सोमवार को शिव की पूजा करनी चाहिए. इस दिन व्रत रखने और भगवान शिव के ध्यान से विशेष लाभ प्राप्त किया जा सकता है. यह व्रत भगवान शिव की प्रसन्नता के लिए किये जाते हैं. व्रत में भगवान शिव का पूजन करके एक समय ही भोजन किया जाता है. साथ ही साथ गले में गौरी-शंकर रूद्राक्ष धारण करना भी शुभ रहता है. सावन के महीने में भक्त, गंगा नदी से पवित्र जल या अन्य नदियों के जल को मीलों की दूरी तय करके लाते हैं और भगवान शिव का जलाभिषेक करते हैं. कलयुग में यह भी एक प्रकार की तपस्या और बलिदान ही है, जिसके द्वारा देवो के देव महादेव को प्रसन्न करने का प्रयास किया जाता है. धर्म ग्रंथों के अनुसार सोमवार का दिन भगवान शिव की पूजा-अर्चना का दिन माना जाता है. इस दिन इनकी पूजा विधि-विधान से करने पर विशेष फल की प्राप्ति होती है और भक्त की सभी मनोकामनाएं जल्दी ही पूरी होती हैं. राशि के अनुसार शिव की पूजा अर्चना करने से भी लाभ होती है.

 

मेष-

इस राशि के जातक सोमवार के दिन जल में गुड़ मिलाकर भगवान शिव का अभिषेक करें अथवा जल में कुंकुम मिलाकर भी शिव का अभिषेक कर सकते हैं. शिव पंचाक्षर मंत्र का जप करें. ऐसा करने से आपकी किस्मत जल्दी ही चमक जाएगी.

वृष-

इस राशि के जातकों के लिए दही से भगवान शिव का अभिषेक शुभ फल देता है. इससे धन संबंधी समस्या का निदान होता है. साथ ही भगवान शिव की स्तुति करें व बिल्व पत्र भी चढ़ाएं तो और जल्दी फल प्राप्त होगा.

shiv

 

मिथुन-

इस राशि के जातक गन्ने के रस से भगवान शिव का अभिषेक हर सोमवार को करें तो जल्दी ही उनकी हर मनोकामना पूरी होगी. भगवान शिव को धतूरा भी चढ़ाएं. आपको मालामाल होने से कोई नहीं रोक सकता है.

कर्क-

इस राशि के शिवभक्त अपनी राशि के अनुसार शक्कर मिला हुआ दूध भगवान शिव को चढ़ाएं. साथ ही आंकड़े के फूल भी अर्पित करें. इस उपाय से कुछ ही दिनों में आपका भाग्य चमक जाएगा.

सिंह-

सिंह राशि के व्यक्ति लाल चंदन के जल से शिवजी का अभिषेक करें तथा शिव अमृतवाणी सुनें. इससे आपकी हर मनोकामना पूरी होगी और जल्दी ही आपके पास वो सब होगा जो आप चाहते हैं.

कन्या-

इस राशि के जातकों को भांग मिश्रित जल से भगवान शिव का अभिषेक करना चाहिए इससे यदि इन्हें कोई रोग होगा तो वह समाप्त हो जाएगा और अपेक्षित धन लाभ भी अवश्य होगा.

तुला-

इस राशि के जातक भगवान शिव का गाय के घी और इत्र या सुगंधित तेल से अभिषेक करें. साथ ही केसर मिश्रित मिठाई का भोग भी लगाएं. इससे इनके जीवन में सुख-समृद्धि आएगी.

वृश्चिक-

शहद मिश्रित जल से भगवान शिवजी का अभिषेक वृश्चिक राशि के जातकों के लिए शीघ्र फल देने वाला माना जाता है. शहद न हो तो शक्कर का उपयोग भी कर सकते हैं.

धनु-

इस राशि के जातकों को दूध में केसर मिलाकर भगवान शिव का अभिषेक करना चाहिए. साथ ही शिव पंचाक्षर स्त्रोत का पाठ करना इनके लिए लाभदायी रहेगा. इससे इन्हें धन लाभ अवश्य होगा.

मकर-

आप अपनी राशि के अनुसार तिल्ली के तेल से शिव जी का अभिषेक करें तो आपको हर काम में सफलता मिलेगी। भगवान शिव को बिल्व पत्र भी चढ़ाएं. जल्दी ही आपकी हर मनोकामना पूरी हो जाएगी.

यह भी पढ़े – सावन की दूसरी सोमवारी पर सूर्य संक्रांति का बन रहा संयोग
सुहाग की सलामती का व्रत ‘मधुश्रावणी’