21 जून से बदल रही है शनि की चाल, कैसे बचें उनके प्रकोप से

shani

लाइव सिटीज डेस्क : 21 जून को शनि अपनी चाल बदलने जा रहे हैं. शनि ने जब-जब अपनी चाल बदली. इसका गहरा असर पड़ा है. किसी राशि के लिए यह खुशियों की सौगात लेकर आती है, तो कुछ के लिए नुकसानदायक साबित होती है. 21 जून बुधवार को प्रात: 4 बजकर 28 मिनट पर वक्री शनि वृश्चिक राशि में प्रवेश करने जा रहे हैं. इस बार शनि की नजर किस पर टेढ़ी होगी, यह तो कोई नहीं पता लगा सकता. आप चाहते हैं कि शनि की कुदृष्‍टि आप पर न पड़े, तो उन्हें अपने पक्ष में रखने के लिए कुछ शनि दोष निवारक उपाय अपना सकते हैं.

कैसे बचें उनके प्रकोप से

माना जाता है शनिदेव की नजर जरा भी टेढ़ी हुई, तो व्‍यक्‍ित अर्श से फर्श पर पहुंच जाता है. ऐसे में आपको चाहिए कि उनका प्रकोप शांत रहे. इसके लिए शनि चालीसा, शनि कवच तथा शनि नाम माला का पाठ कर क्षमा स्तोत्र जाप करें. प्रसन्न हो जाने पर शनि की शुभ कृपा प्राप्त होती है. वैसे तो शनि की पत्नी के नामों का नित्य पाठ शुभ फल उत्पन्न किया करता है.

shani

सूर्य की पूजा करने से मिलेगा लाभ

शनि सूर्य का पुत्र है, फिर भी पिता-पुत्र अर्थात दोनों में मधुर संबंध नहीं हैं तथापि शनि सूर्य से प्रभावित होता है. सूर्य को अर्घ्य देने से अपेक्षित लाभ होता है. सूर्य के बीजमंत्र का ग्यारह हजार बार जाप करने से चमत्कारिक रूप से शनि का निवारण होता है-

ऊँ ह्रां ह्रीं ह्रौं सूर्याय नम:

यह भी पढ़ें – रमज़ान का तीसरा अशरा शुरू, दोजख से निजात की दुआ करें
नहीं रहे यारपुर वाले गुरुदेव बलराम बाबा, बांस घाट पर आज अंतिम संस्कार